कानून का रक्षक ही बन बैठा भक्षक, पहले किया सेक्स फिर कराया एबोरशन!

लखनऊ: महिलाओं को न्याय दिलाने की जिम्मेदारी उठाने वाले पुलिस वाले ही अगर महिलाओं के शोषण करने पर उतर आये तो भी कानून-व्यवस्था से लोगों का भरोसा ही उठ जायेगा। पीलीभीत जनपद में तैनात एक सिपाही ने इन्दिरानगर इलाके में रहने वाली एक युवती को शादी के जाल मेंं फंसाया और उसके साथ  किया। युवती जब गर्भवती हो गयी तो सिपाही ने उसको गर्भपात करा दिया। इसके बाद आरोपी सिपाही ने युवती की एक सहेली से नजदीकियां बना ली और युवती से शादी से साफ इंकार कर दिया। सीओ गाजीपुर के आदेश के बाद इस मामले में आरोपी सिपाही के खिलाफ गाजीपुर थाने में एफआईआर दर्ज की गयी है।

सीओ गाजीपुर दिनेश पुरी ने बताया कि इन्दिरानगर के सी ब्लाक इलाके में बिजली मैकेनिक अपने परिवार के साथ रहते हैं। कुछ समय पहले उन्होंने गोमतीनगर थाने में तैनात एक दारोगा के घर बिजली का कुछ काम किया था। इस दौरान दारोगा और मैकेनिक के बीच जान पहचान हो गयी थी। बिजली मैकेनिक ने दारोगा से अपनी बेटी की शादी की बात कही थी। इस पर दारोगा ने उनको एक लड़के के बारे में बताया था।

लड़के का नाम अजीम खान था और वह मुरादाबाद का रहने वाला था। मौजूद समय में अजीम खान यूपी पुलिस में सिपाही है और पीलीभीत जनपद में तैनात है। लड़के का रिश्ता पता चलने के बाद दोनों परिवार की मुलाकात हुई और शादी की बात तय हो गयी। इसके बाद आरोपी सिपाही और युवती के बीच बातचीत का सिलसिला शुरू हुआ।

युवती का आरोप है कि अक्सर सिपाही उससे मिलने के लिए लखनऊ आता था और उसके साथ शारीरिक संबंध भी बनाता था। इस बीच युवती गर्भवती हो गयी। सिपाही को जब इस बात का पता चला तो उसने युवती का गर्भपात करा दिया। युवती का आरोप है कि कुछ समय पहले उसके सिमकार्ड खराब हो गया था। युवती ने सिपाही से बातचीत के लिए अपनी एक सहेली के मोबाइल फोन का प्रयोग किया। इसके बाद  आरोपी सिपाही ने अपनी प्रेमिका को छोड़कर उसकी सहेली से नजदीकियां बना ली। पीडि़ता का आरोप है कि सिपाही उसकी सहेली को अश्लील मैसेज और फोटो भेजने लगा।

पीडि़ता को जब इस बात का पता चला तो उसने सिपाही से बात की और अपनी शादी की बात रखी। युवती से शादी के लिए राजी सिपाही ने युवती से शादी से साफ इंकार कर दिया। सिपाही के इस धोखे से आहत किशोरी ने इस संबंध में सीओ गाजीपुर दिनेश पुरी से मिलकर शिकायत की। मामले की गंभीरता को देखते हुए सीओ ने आरोपी सिपाही के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश दिया। सीओ के आदेश के बाद सिपाही अजीम खान के खिलाफ 493 और 313 आईपीसी की धारा के तहत रिपोर्ट दर्ज की गयी है।
वूमन पावर लाइन पर भी की गयी थी शिकायत
प्यार में धोखा खाई युवती ने इस संबंध में सबसे पहले 6 फरवरी को वूमन पावर लाइन पर अपनी शिकायत दर्ज करायी थी। गाजीपुर पुलिस को दी गयी अपनी शिकायत में पीडि़त युवती का कहना है कि वूमन पावर लाइन पर की गयी शिकायत के बाद भी कुछ खास नहीं हुआ। वहीं आरोपी सिपाही उसको अपनी शिकायत वापस लेने की धमकी देने लगा। इसके बाद युवती शिकायत लेकर इन्दिरानगर थाने पहुंची तो इन्दिरानगर पुलिस ने उसको वहां से बैरंग लौटा दिया। अंत में वह सीओ गाजीपुर के पास पहुंची तब जाकर उसकी रिपोर्ट दर्ज की गयी।
महिला दारोगा को मिली पूरे मामले की विवेचना
इस पूरे मामले में जब सीओ गाजीपुर दिनेश पुरी से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि युवती की शिकायत पर रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है। मामला युवती से जुड़ा था तो विवेचना भी महिला दारोगा को दी गयी है। महिला दारोगा की जांच में अगर सिपाही पर लगे आरोप सही मिलते हैं तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

loading...

You May Also Like

English News