कानून का सामना करने को तैयार हैं विजय माल्या

किंगफिशर, यूबी होल्डिंग्स, यूनाइटेड ब्रेवरीज़ लिमिटेड के मालिक विजय माल्या एक बार फिर सुर्ख़ियों में हैं. बताया जा रहा है कि विजय माल्या भारत का रुख करना चाहते हैं यही नहीं बल्कि वह अध्यादेश के तहत हुई हालिया कार्रवाई का सामना करना चाहते हैं, जी हाँ नौ हजार करोड़ रुपये बैंक धोखाधड़ी मामले के मुख्य आरोपी विजय माल्या ने भारत आने की इच्छा जताई है.किंगफिशर, यूबी होल्डिंग्स, यूनाइटेड ब्रेवरीज़ लिमिटेड के मालिक विजय माल्या एक बार फिर सुर्ख़ियों में हैं. बताया जा रहा है कि विजय माल्या भारत का रुख करना चाहते हैं यही नहीं बल्कि वह अध्यादेश के तहत हुई हालिया कार्रवाई का सामना करना चाहते हैं, जी हाँ नौ हजार करोड़ रुपये बैंक धोखाधड़ी मामले के मुख्य आरोपी विजय माल्या ने भारत आने की इच्छा जताई है.    अध्यादेश के तहत भारत सरकार देश और विदेशों में माल्या से जुड़ी सभी संपत्तियों को तत्काल जब्त कर सकती है. खबरों की माने तो विजय माल्या को अदालत ने 27 अगस्त को उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं. इसके अलावा कहा जा रहा है कि अगर माल्या तय तारीख यानिकि 27 अगस्त को कोर्ट के समक्ष उपस्थित नहीं होता है और अदालती समन पर कुछ भी जवाब नहीं देता है तो उन्हें भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया जा सकता है.  केन्द्रीय मंत्री का मशवरा, माल्या की तरह स्मार्ट बनो, राजनेताओं के साथ ....    यही नहीं बल्कि उनकी देश विदेश में मौजूद सारी संपत्तियां जब्त की जा सकती हैं. बता दें कि विजय माल्या किंगफिशर, यूबी होल्डिंग्स, यूनाइटेड ब्रेवरीज़ लिमिटेड के अलावा भी मैंगलोर केमिकल्स एंड फर्टिलाइज़र्स और यूबी इंजीनियरिंग लिमिटेड के मालिक हैं. माल्या को यह संपत्ति अपने पिता विट्टल माल्या से विरासत में मिली जिसका उन्होंने विस्तार किया और इंग्लैंड, अमेरिका तक अपने कारोबार को फैलाया.

अध्यादेश के तहत भारत सरकार देश और विदेशों में माल्या से जुड़ी सभी संपत्तियों को तत्काल जब्त कर सकती है. खबरों की माने तो विजय माल्या को अदालत ने 27 अगस्त को उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं. इसके अलावा कहा जा रहा है कि अगर माल्या तय तारीख यानिकि 27 अगस्त को कोर्ट के समक्ष उपस्थित नहीं होता है और अदालती समन पर कुछ भी जवाब नहीं देता है तो उन्हें भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया जा सकता है.

यही नहीं बल्कि उनकी देश विदेश में मौजूद सारी संपत्तियां जब्त की जा सकती हैं. बता दें कि विजय माल्या किंगफिशर, यूबी होल्डिंग्स, यूनाइटेड ब्रेवरीज़ लिमिटेड के अलावा भी मैंगलोर केमिकल्स एंड फर्टिलाइज़र्स और यूबी इंजीनियरिंग लिमिटेड के मालिक हैं. माल्या को यह संपत्ति अपने पिता विट्टल माल्या से विरासत में मिली जिसका उन्होंने विस्तार किया और इंग्लैंड, अमेरिका तक अपने कारोबार को फैलाया.

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com