काली मिर्च के सेवन से दूर करे अपने शरीर के रोग

भारतीय मसालों में हमेशा ही काली मिर्च का अहम स्थान रहा है. यह हमारे भोजन का ही स्वाद नहीं बढ़ाती बल्कि इसके द्वारा घरेलू नुस्खों से रोगों को भी ठीक किया जाता है. काली मिर्च में कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस, कैरोटीन, थायमीन रिबोफ्लोवीन, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन आदि पौषक तत्व पाये जाते हैं तो आइए जानते हैं कालीमिर्च से होने वाले फायदों के बारे में…काली मिर्च के सेवन से दूर करे अपने शरीर के रोग

गीली खांसी में आएगा आराम –

कालीमिर्च की एक कप चाय में शहद लेने से गीली खांसी में आराम मिलता है. कालीमिर्च रक्त और म्यूकस के प्रवाह को तेज करती है, जबकि शहद खांसी में आराम पहुंचाता है और एंटीबायोटिक भी है. कालीमिर्च की चाय बनाने के लिए एक छोटा चम्मच ताजी कुटी काली मिर्च और दो बड़ा चम्मच शहद एक कप में डालें. इसे गर्म पानी से भरें और 15 मिनट ऐसे ही रखा रहने दें. पंद्रह मिनट बाद छान कर पी लें.

धूम्रपान छोडऩे में –

साल 2013 में हुए एक शोध के मुताबिक, जब निकोटिन के आदी लोगों को कालीमिर्च का तेल सूंघने को दिया गया तो उनकी धूम्रपान की इच्छा कम हो गई थी. इसकी वजह उन्होंने यह बताई कि कालीमिर्च का तेल सूंघने के बाद उनके गले में हल्की सी जलन होने लगी. इसके बाद जब उन्होंने सिगरेट पी तो उन्हें इसी वजह से मजा नहीं आया और उनकी तलब भी कम होने लगी. शोधकर्ताओं के अनुसार, जो लोग सिगरेट आदि छोडऩा चाहते हैं, उन्हें कॉटन बॉल में एक बूंद कालीमिर्च का तेल डालकर सूंघते रहना चाहिए.

खाना पचाने में –

कालीमिर्च से पेट में हाइड्रोक्लोरिक एसिड का उत्पादन बढ़ता है. यह एसिड खाने को तोडऩे यानी पचाने में मदद करता है और आपको हल्का महसूस होता है.

बंद नाक खोलने में –

कालीमिर्च बंद नाक खोलने में मदद करती है. इसमें एक रसायन होता है, जो नाक की झिल्लियों को पतला म्यूकस स्त्रावित करने को मजबूर करता है. इससे आपको नाक खुली हुई लगती है. उबलते हुए पानी में बहुत थोड़ा सा यूकलिप्टिस तेल डालें. इसमें पांच बूंद कालीमिर्च का तेल मिलाएं. पानी से निकलने वाली भाप को सूंघें, नाक खुल जाएगी.

मांसपेशियों को आराम देने में –

कालीमिर्च का तेल वार्मिंग ऑयल माना जाता है, क्योंकि इससे मालिश वाली जगह पर रक्त का प्रवाह बढ़ जाता है और वह हिस्सा गर्म हो जाता है. इससे सख्त हुई मांसपेशियां ढीली पड़ती हैं. मालिश के लिए चार बूंद रोजमैरी तेल में दो बूूंद कालीमिर्च तेल की मिलाएं और उससे मालिश करें. आप इसमें दो बूंद अदरक का तेल भी डाल सकते हैं. इस तेल को सीधे त्वचा पर लगाएं या फिर नारियल के तेल में मिलाएं.

You May Also Like

English News