काशी में डुबकी लगाते समय कंगना से हुई ये बड़ी भूल

मुंबई : बॉलीवुड क्वीन कंगना रनौत ने गुरुवार को अपनी अपकमिंग फिल्म ‘मणिकर्णिका द क्वीन ऑफ झांसी’ का पोस्टर रिलीज़ किया है. इस फिल्म का पोस्टर रिलीज़ करने और फिल्म की सफलता के लिए भगवान शिव का आशीर्वाद लेने वाराणसी पहुंची थीं. लेकिन वहां कंगना से भूल हो गई, जिसका खामियाजा कंगना को भुगतना पड़ता. गंगा में उतरने के दौरान उनसे एक गलती हो गई, जिसे पास खड़े पुजारियों ने देख लिया.काशी में डुबकी लगाते समय कंगना से हुई ये बड़ी भूलयह भी पढ़े:> रईस की लैला ने की साउथ में एंट्री, ये हॉट तस्वीरें की शेयर

कंगना गंगा स्नान में पारंपरिक वस्त्रों के साथ उतरीं लेकिन अध्यात्मिक मान्यताओं का ख्याल पीछे छूट गया. इसी पर पुजारियों ने उन्हें टोक दिया.

पोस्टर की लॉन्चिंग के बाद कंगना ने पूरे विधि-विधान से पांच ब्राह्मणों के साथ रोजाना होने वाली गंगा आरती से पहले गंगा पूजन किया. कंगना गंगा स्नान के वक्त रानी लक्ष्मीबाई के किरदार में थीं.

दरअसल कंगना गंगा में चार डुबकियां लगाने के बाद वापस आने लगीं. तब उन्हें पुजारियों ने इशारे से समझाया की एक डुबकी रह गई है. उसके बाद कंगना ने डुबकी लगाई. कंगना ने अपनी इस भूल के लिए लोगों से माफी भी मांगी.

‘मणिकर्णिका द क्वीन ऑफ झांसी’ का पोस्टर गुरुवार को वाराणसी के दशाश्वमेघ घाट पर रिलीज़ किया. इस फिल्म का पोस्टर वाराणसी में होने की वजह ये हो सकती है. दरअसल झांसी की रानी लक्ष्मी बाई का जन्म काशी के भदैनी मुहल्ले में ही सन् 1828 में हुआ था. उनके बचपन का नाम मणिकर्णिका था, इसी कारण से फिल्म यूनिट, गीतकार प्रशून जोशी और शंकर एहसान लॉय के साथ कंगना काशी के सबसे प्राचीन घाट दशाश्वमेघ पर अपने ऐतिहासिक फिल्म पोस्टर जारी करने आई थी.

You May Also Like

English News