किडनी पेशेंट्स न करे सूखे हुए मेवों का सेवन,जानिये क्यों

क्या आप जानते है की सूखे मेवे हमारे शरीर में फैट और कॉलेस्ट्रॉल दोनों को ही कम करने का काम करते है. सूखे मेवों का सेवन हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है. सूखे हुए मेवों का सेवन करने से हमारा दिल भी स्वस्थ रहता है.किडनी पेशेंट्स न करे सूखे हुए मेवों का सेवन,जानिये क्यों यह भी पढ़े: छुट्टियां मनाने के दौरान कही जाये तो इन कपड़ों को दें तरजीह!

सूखे मेवों को हमेशा पानी में भिगोकर कर ही करना चाहिए.क्योकि ये काफी गर्म होते है इसलिए जब इनका सेवन करना हो तो उन्हें कुछ घंटों पहले ही भिगो दे. ऐसा करने से इनके छिलकों के ऊपरी परत पर दूषित कण होते हैं वो भी हट जाते हैं.

सूखे हुए मेवों में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता हैं, इसलिए अगर आप हाई ब्लड प्रेशर, किडनी रोग और पाचन संबंधी समस्याओ का सामना कर रहे है तो कभी इनका सेवन ना करे.

ऐसे में अगर चाहें तो सूखे हुए मेवों की जगह अंकुरित अनाज, तिल, सोयाबीन, अलसी के बीज और दालों का सेवन कर सकते हैं.

You May Also Like

English News