कुछ इस तरह से कपिल देव ने सचिन की मिसाल देकर किया MS धोनी का बचाव..

कपिल देव ने टीम इंडिया के पूर्व कप्तान एमएस धोनी का बचाव सचिन तेंदुलकर की मिसाल देकर किया। 1983 वर्ल्ड कप विजेता कप्तान कपिल देव ने पुणे में एक गोल्फ इवेंट के बाद कहा कि मुझे उम्मीद है कि 2020 वर्ल्ड टी20 में महेंद्र सिंह धोनी खेल सकते हैं, भले ही वो उस समय 40 वर्ष के क्यों नहीं हो जाएं।कुछ इस तरह से कपिल देव ने सचिन की मिसाल देकर किया MS धोनी का बचाव..
 कुछ इस तरह हाथों में हाथ डाले स्पोर्ट्स इवेंट में आए विराट और अनुष्का….

कपिल देव ने कहा, ‘मुझे समझ नहीं आता है कि कुछ औसत प्रदर्शनों के बाद इतने लोग धोनी के विरोध में क्यों खड़े हो जाते हैं। इससे उम्र का कोई लेना देना नहीं है। जैम हमने 2011 में वर्ल्ड कप जीता तब सचिन तेंदुलकर की उम्र 38 वर्ष की थी, तब तो किसी ने कुछ नहीं कहा।’
 

धोनी का हाल ही में टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में प्रदर्शन औसत से कम रहा, जिसके बाद उनके संन्यास लेने की मांग ने तेजी पकड़ ली है। कुछ लोगों का कहना है कि धोनी को अब सिर्फ वन-डे खेलना चाहिए क्योंकि वो टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में अब फिट नहीं बैठते, वहीं कुछ का मानना है कि धोनी को युवाओं के लिए जगह बनाना चाहिए।
 

हालांकि, धोनी को टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री का समर्थन प्राप्त है। वहीं विश्व के सर्वकालिक महान ऑलराउंडरों में से एक कपिल का मानना है कि धोनी का अभी कोई विकल्प तैयार नहीं है। उन्होंने कहा, ‘अगर धोनी को टीम से बाहर कर दिया गया, तो उनकी जगह लेने वाला कौन है?’
 

रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा अब टेस्ट क्रिकेट तक ही सीमित है, लेकिन कपिल ने कहा कि इन दोनों की जगह लेने वालों ने दमदार प्रदर्शन किया है। कपिल देव ने कहा, ‘टीम इंडिया में सीनियोरीटी जैसी कोई चीज नहीं है। आपके प्रदर्शन के आधार पर चयन होता है और यही वजह है कि कुलदीप और चहल सीमित ओवर प्रारूप में अपनी जगह बना सके हैं।
 

कपिल ने टीम इंडिया के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की भी जमकर तारीफ की। 58 वर्षीय ने कहा, ‘हार्दिक में मुझसे बेहतर बनने की प्रतिभा है और उन्हें सिर्फ ऐसा ही खेलते रहने की जरुरत है जैसा खेलते आ रहे हैं।’
 

You May Also Like

English News