कुत्ते की ये 4 हरकतें देती हैं संकेत, की आपके साथ हने वाला है अपशगुन

लोगों को अक्सर अपने घर में कुत्ता पालना पसंद होता है। उनके साथ खेलना और खुद के लिए उनके प्यार के कारण लोग इससे दोस्ती करते हैं। माना जाता है कि कुत्तों की छठी इंद्री अधिक विकसित होती है, इसलिए जब कोई अपशकुन होने वाला होता है तो यह रोना शुरू कर देता है। इसलिए कुत्ते का रोना शुभ नहीं माना जाता है। और लोग आशंकित हो उठते हैं कि समाज में कुछ न कुछ बुरा होने वाला है।  रोने के अलावा कुछ और  भी संकेते हैं तो शुभ नहीं माने जाते हैं।

कुत्तों का भौंकना

यह एक सामान्य सी घटना हो सकती है, लेकिन जब कोई कुत्ता दिन में आसमान की ओर मुंह करके भौंकने लगे तो यह अच्छा नहीं माना जाता है। माना जाता है कि कुत्ता कह रहा है कि आने वाले दिनों में पानी की काफी कमी हो सकती है।

 

कुत्ते का जमीन पर लोटना

आप किसी काम से जा रहे हों और रास्ते में कोई कुत्ता आपके सामने जमीन पर लोटने लगे तो समझ लीजिए कि वह कह रहा है, काम नहीं बनेगा। कुत्ते का शरीर फड़फड़ाना भी इसी प्रकार का संकेत समझना चाहिए।

 कुत्ते का कान फड़फड़ना

 कुत्ता अगर दोनों कान फड़फड़ाए तो जो भी कार्य करने जा रहे हैं उसे स्थागित कर दें। माना जाता है कि वो बता रहा है, कार्य नहीं बनेगा या इसमें नुकसान हो सकता है।

जूते-चप्पल लेकर भागना

कुत्ता आपका चप्पल या जूता लेकर भागे तो सावधान हो जाइए क्योंकि यह संकेत है आर्थिक नुकसान होने वाला है। ऐसे समय में कहीं जाना हो तो यात्रा स्थगित कर दें।

 

You May Also Like

English News