कुलभूषषण की मां ने मांगी ममता की भीख, क्या इस बार पिघलेगा पाकिस्तान का दिल…

भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषषण जाधव को पाकिस्तान ने फांसी की सज़ा सुनाई है। भूषण को पाक की कैद से रिहा करने के लिए भारत लगातार प्रयास कर रहा है लेकिन पाक अपनी जिद पर डटा हुआ है। ऐसे में अब भूषण की मां ने पाक के सामने अपने बेटे की रिहाई की अपील की है। अब देखना होगा कि पथ्थर दिल पाक क्या इस मां की अपील से पिघलेगा।

कुलभूषषण जाधव की मां ने पाकिस्तान से की अपने बेटे से मिलने की अपील

कुलभूषण जाधव की मां ने अपने बेटे की रिहाई के लिए पाकिस्तान के समक्ष अपील दायर की है। उन्होंने पाकिस्तान से मामले में दखल देने की मांग की है और अपने बेटे से मिलने की इच्छा जाहिर की है। हालांकि, इससे पहले पाक ने फिर एक बार भारत की कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुंच मुहैया कराने की मांग को खारिज कर दिया। इस अपील को पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त गौतम बंबावाले ने पाकिस्तानी विदेश सचिव तहमिना जांजुआ से मुलाकात कर उन्हें सौंपी।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है, “बंबावले ने जाधव की मां द्वारा दी गई याचिका को पाकिस्तान सरकार को सौंपा और उनके द्वारा जाधव की तरफ से अदालत में भी अपील की गई। जाधव को पाकिस्तान में मनगढंत आरोपों के तहत हिरासत में रखा गया है।” बयान में कहा गया है, “उन्होंने (जाधव की मां) पाकिस्तान की संघीय सरकार से जाधव की रिहाई के लिए दखल देने आग्रह किया है और उनसे मिलने की इच्छा जाहिर की है।” 

यह भी पढ़े- इस बात को लेकर पीएम मोदी से टकराने आ रही हैं सोनिया, इस नेता को बनाएंगी राष्ट्रपति पद का…

पाक ने सुनाई मौत की सज़ा

बयान में कहा गया है कि भारतीय विदेश सचिव एस. जयशंकर ने भी भारत में पाकिस्तान के उच्चायुक्त से मंगलवार को मुलाकात की और इन बातों को रखा। जाधव एक पूर्व नौसेना अधिकारी हैं। उन्हें मार्च 2016 में बलूचिस्तान में गिरफ्तार किया गया था। पाकिस्तान ने उन पर जासूस होने का आरोप लगाया है। एक सैन्य अदालत ने उन्हें 10 अप्रैल को मौत की सजा सुनाई थी। भारत ने 15 बार राजनयिक पहुंच की मांग की, लेकिन पाकिस्तान ने इससे हर बार इनकार किया। भारतीय अधिकारियों का कहना है कि उन्हें जाधव के ठिकाने और स्थिति के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई।

यह भी पढ़े- भाजपा की बम्पर जीत का हीरो- मनोज तिवारी, जाने क्या बनेंगे दिल्ली के अगले CM

You May Also Like

English News