कुशीनगर में बड़ा हादसा, 13 मासूमों की मौत

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में हुए एक हादसे ने 13 मासूम बच्चों की जिंदगी निगल ली, यहाँ एक स्कूल वैन रेलवे क्रासिंग से निकलते समय ट्रेन की चपेट में आ गई, जिससे 13 बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि , 8 बच्‍चे गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं. जिन्हे स्थानीय अस्पताल पहुँचाया गया है. बताया जा रहा है कि वैन में कुल 22 बच्चे सवार थे. इस घटना को ड्राइवर की लापरवाही बताया जा रहा है. उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में हुए एक हादसे ने 13 मासूम बच्चों की जिंदगी निगल ली, यहाँ एक स्कूल वैन रेलवे क्रासिंग से निकलते समय ट्रेन की चपेट में आ गई, जिससे 13 बच्चों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि , 8 बच्‍चे गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं. जिन्हे स्थानीय अस्पताल पहुँचाया गया है. बताया जा रहा है कि वैन में कुल 22 बच्चे सवार थे. इस घटना को ड्राइवर की लापरवाही बताया जा रहा है.   घटनास्थल पर स्थानीय लोग और पुलिस बल ने पहुँच कर राहत और बचाव कार्य जारी कर दिया है. दरअसल, कुशीनगर के डिवाइन मिशन स्‍कूल की वैन आज सुबह 22 बच्‍चों को लेकर स्‍कूल जा रही थी. इसी बीच मानव रहित क्रॉसिंग पर थावे-बढ़नी पैसेंजर ट्रेन से वैन की टक्‍कर हो गई. जिसमे 13 मासूम स्कूली बच्चों की जान चली गई, घायल हुए बच्चों की हालत भी गंभीर बताई जा रही है.  इस हादसे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुःख जताया है, उन्होंने मृतकों और घायल बच्‍चों के परिजनों 2-2 लाख रुपए की आर्थ‍िक मदद की घोषणा की है. साथ ही गोरखपुर के कमिश्‍नर को इस हादसे के जांच के आदेश दिए हैं. आपको बता दें कि इस तरह कि लापरवाही भरी घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं, 2016 में भदोही के पास बच्चों से भरी स्‍कूल वैन ट्रेन की चपेट में आ गई थी. इस हादसे में 10 बच्चों की मौत हो गई और कई गंभीर रूप से घायल हो गए थे

घटनास्थल पर स्थानीय लोग और पुलिस बल ने पहुँच कर राहत और बचाव कार्य जारी कर दिया है. दरअसल, कुशीनगर के डिवाइन मिशन स्‍कूल की वैन आज सुबह 22 बच्‍चों को लेकर स्‍कूल जा रही थी. इसी बीच मानव रहित क्रॉसिंग पर थावे-बढ़नी पैसेंजर ट्रेन से वैन की टक्‍कर हो गई. जिसमे 13 मासूम स्कूली बच्चों की जान चली गई, घायल हुए बच्चों की हालत भी गंभीर बताई जा रही है.

इस हादसे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुःख जताया है, उन्होंने मृतकों और घायल बच्‍चों के परिजनों 2-2 लाख रुपए की आर्थ‍िक मदद की घोषणा की है. साथ ही गोरखपुर के कमिश्‍नर को इस हादसे के जांच के आदेश दिए हैं. आपको बता दें कि इस तरह कि लापरवाही भरी घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं, 2016 में भदोही के पास बच्चों से भरी स्‍कूल वैन ट्रेन की चपेट में आ गई थी. इस हादसे में 10 बच्चों की मौत हो गई और कई गंभीर रूप से घायल हो गए थे

You May Also Like

English News