केंद्रीय मंत्री बोले- दिल्ली की जनता को पानी दें सीएम, एलजी हाउस में दुबके बैठे हैं केजरीवाल

भारतीय रेलवे ने गोवा और कर्नाटक की सीमा पर घूमने जाने वाले या घूम रहे पर्यटकों के लिए इस क्षेत्र में जाने के दौरान सावधान रहने की चेतावनी जारी की है. इस चेतावनी का कारण है कि गोवा-कर्नाटक सीमा के पास कास्टलॉक-कुलेम रेल खंड के समीप बाघ और तेंदुए को प्रचलन करते देखा गया है. ऐसे में किसी व्यक्ति व समूह को उनके हमले का खतरा हो सकता है.भारतीय रेलवे ने गोवा और कर्नाटक की सीमा पर घूमने जाने वाले या घूम रहे पर्यटकों के लिए इस क्षेत्र में जाने के दौरान सावधान रहने की चेतावनी जारी की है. इस चेतावनी का कारण है कि गोवा-कर्नाटक सीमा के पास कास्टलॉक-कुलेम रेल खंड के समीप बाघ और तेंदुए को प्रचलन करते देखा गया है. ऐसे में किसी व्यक्ति व समूह को उनके हमले का खतरा हो सकता है.  दक्षिण पश्चिमी रेलवे ने एक सार्वजनिक नोटिस जारी करते हुए कहा गया है कि कास्टलॉक-कुलेम घाट खंड के बीच रेलवे ट्रैक के पास बाघ और तेंदुए देखे गए हैं. इसलिए, आम आदमी और पर्यटकों को सलाह दी जाती है कि वे इस क्षेत्र में जाने के दौरान सावधान रहें. बता दें कि यह पूरा इलाका घने जंगलों से घिरा हुआ है और यहां बाघ चीतों का आना जाना कभी भी संभव है.  ऐसे में अगर कोई व्यक्ति या समूह इनके सामने आ जाता है तो उसे खतरे का डर हो सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह पूरा इलाका शाहरुख खान, दीपिका पादुकोण अभिनीत फिल्म 'चेन्नई एक्सप्रेस' में दिखाए जाने के बाद चर्चा में आ गया था. यहां ज्यादातर ट्रैकर्स व वन्यजीव प्रेमी पर्यटक ही आते है.

दक्षिण पश्चिमी रेलवे ने एक सार्वजनिक नोटिस जारी करते हुए कहा गया है कि कास्टलॉक-कुलेम घाट खंड के बीच रेलवे ट्रैक के पास बाघ और तेंदुए देखे गए हैं. इसलिए, आम आदमी और पर्यटकों को सलाह दी जाती है कि वे इस क्षेत्र में जाने के दौरान सावधान रहें. बता दें कि यह पूरा इलाका घने जंगलों से घिरा हुआ है और यहां बाघ चीतों का आना जाना कभी भी संभव है.

ऐसे में अगर कोई व्यक्ति या समूह इनके सामने आ जाता है तो उसे खतरे का डर हो सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह पूरा इलाका शाहरुख खान, दीपिका पादुकोण अभिनीत फिल्म ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ में दिखाए जाने के बाद चर्चा में आ गया था. यहां ज्यादातर ट्रैकर्स व वन्यजीव प्रेमी पर्यटक ही आते है.

 

You May Also Like

English News