केजरीवाल को लगा ये बड़ा झटका, खत्म हो सकती है आम आदमी पार्टी

नई दिल्ली। विधानसभा चुनाव में बुरी हार के बाद लग रहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। एलजी अनिल बैजल और अरविंद केजरीवाल के बीच एक महीने में टकराव का दूसरा मामला सामने आया है।


खबरों के मुताबिक, बुधवार को एलजी ने चीफ सेक्रेटरी को आम आदमी पार्टी (AAP) से 97 करोड़ रुपए वसूल करने का ऑर्डर दिया। आरोप है कि दिल्ली सरकार ने सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन्स का वॉयलेशन कर सीएम अरविंद केजरीवाल और आप की इमेज बनाने के लिए ऐड दिए थे।

इसके लिए 97 करोड़ का पेमेंट किया गया। बैजल ने पिछले साल 31 दिसंबर को एलजी की पोस्ट संभाली थी। बता दें कि पूर्व एलजी के साथ भी केजरीवाल की ढाई साल तक जंग चली थी। बैजल ने चीफ सेक्रेटरी एमएम कुट्टी को दिए ऑर्डर में कहा है कि सरकार के ऐड देने के खर्च की जांच करें और जिम्मेदारियां तय की जाएं।

30 दिन में आप से वसूली की जाए। दिल्ली सरकार 42 करोड़ का पेमेंट कर चुकी है। इसकी रिकवरी हो और ऐड एजेंसी को दिए जाने वाले बाकी 55 करोड़ का पेमेंट आप खुद करे। 

इसके पहले 10 मार्च को दिल्ली असेंबली में रखी गई कैग की रिपोर्ट में भी सामने आया था कि केजरीवाल सरकार ने 29 करोड़ के ऐड दिल्ली के बाहर दिए, जो उसकी सीमा में नहीं थे। 24 करोड़ के ऐड सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन्स का वॉयलेशन कर दिए गए। हालांकि, केजरी सरकार ने रिपोर्ट को खारिज कर दिया था।

कांग्रेस नेता अजय माकन ने पिछले साल आप सरकार की ऐड कमेटी से शिकायत की थी। यह कमेटी सरकारों के ऐड पर हुए खर्च की निगरानी के लिए बनाई गई है। माकन ने शिकायत में कहा था कि दिल्ली सरकार जनता का पैसा अपने और पार्टी के ऐड में बर्बाद कर रही है। तब कमेटी ने कहा था कि 13 मई, 2015 को SC की गाइडलाइन्स जारी होने के बाद के सभी ऐड का पेमेंट आप को खुद करना चाहिए।

You May Also Like

English News