”केजरीवाल नाटक कर रहे है”

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर लगातार हमलावर रहने वाले दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने अब फिर एक बार केजरीवाल को घेरा है. उन्होंने कहा है कि जो लोग हर काम अपूर्ण करते हैं वो आज पूर्ण राज्य की मांग कर रहे हैं और कुशासन से ध्यान हटाने के लिए केजरीवाल का यह राजनीतिक नाटक कर रहे हैं. मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली की जनता जहां एक ओर इन दिनों पानी, बिजली की किल्लत, सरकारी अस्पतालों की दुर्दशा और दिल्ली सरकार के विभागों के भ्रष्टाचार से परेशान है और उससे ध्यान भटकाने के लिए केजरीवाल पूर्ण राज्य के दर्जे का राग अलाप रहे हैं.मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर लगातार हमलावर रहने वाले दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने अब फिर एक बार केजरीवाल को घेरा है. उन्होंने कहा है कि जो लोग हर काम अपूर्ण करते हैं वो आज पूर्ण राज्य की मांग कर रहे हैं और कुशासन से ध्यान हटाने के लिए केजरीवाल का यह राजनीतिक नाटक कर रहे हैं. मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली की जनता जहां एक ओर इन दिनों पानी, बिजली की किल्लत, सरकारी अस्पतालों की दुर्दशा और दिल्ली सरकार के विभागों के भ्रष्टाचार से परेशान है और उससे ध्यान भटकाने के लिए केजरीवाल पूर्ण राज्य के दर्जे का राग अलाप रहे हैं.   उन्होंने आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी द्वारा दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलवाने की मांग अपने कुशासन और निष्क्रियता से जनता का ध्यान भटकाने के लिए केजरीवाल का एक राजनीतिक नाटक है. दिल्ली की जनता के हित में स्थानीय सरकार को कुछ अधिकार मिलने चाहिए. मनोज तिवारी ने आरोप लगाया कि 2013 में अनैतिक सत्ता पाना हो या 2015 में पूर्ण बहुमत पाकर अरविंद केजरीवाल सरकार ने संघीय ढांचे को लगातार चोट पहुंचाने का काम किया है और इस सरकार की नीयत दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने की नहीं अपने लिए निरंकुश सत्ता पाने की है. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा संघीय व्यवस्था में केजरीवाल सरकार के भ्रष्टाचारी शासन पर उपराज्यपाल अंकुश लगा रहे हैं वहीं, सरकार ने तीन साल में कोई विकास कार्य नहीं किया है इसलिए अब केजरीवाल सरकार पूर्ण राज्य के दर्जे की मांग कर ध्यान भटका रही है.  उन्होंने यह भी कहा कि जिस संघीय ढांचे पर केजरीवाल लगातार खुद को लाचार बता रहे हैं उसी ढांचे में बीजेपी और कांग्रेस ने सरकारें चलाई हैं और दिल्ली के विकास पर ध्यान दिया है जिसकी तस्वीर मेट्रो और बेहतरीन फ्लाईओवरों के जाल के रूप में देखी जा सकती है. हालांकि दिल्ली को पूर्ण राज्य के दर्जे के लिए बीजेपी तैयार है या नहीं, इसका उन्होंने खुद सीधा-सीधा जवाब नहीं दिया और कहा कि केजरीवाल को इसके लिए ऑल पार्टी मीट बुलानी चाहिए जिसमें इसकी समीक्षा की जाएगी. गौरतलब है कि अरविन्द केजरीवाल ने कल कहा है कि हमारी चुप्पी का गलत फायदा उठाया जा रहा है. साथ ही उन्होंने दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य की मांग को दोहराया है.

उन्होंने आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी द्वारा दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलवाने की मांग अपने कुशासन और निष्क्रियता से जनता का ध्यान भटकाने के लिए केजरीवाल का एक राजनीतिक नाटक है. दिल्ली की जनता के हित में स्थानीय सरकार को कुछ अधिकार मिलने चाहिए. मनोज तिवारी ने आरोप लगाया कि 2013 में अनैतिक सत्ता पाना हो या 2015 में पूर्ण बहुमत पाकर अरविंद केजरीवाल सरकार ने संघीय ढांचे को लगातार चोट पहुंचाने का काम किया है और इस सरकार की नीयत दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने की नहीं अपने लिए निरंकुश सत्ता पाने की है. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा संघीय व्यवस्था में केजरीवाल सरकार के भ्रष्टाचारी शासन पर उपराज्यपाल अंकुश लगा रहे हैं वहीं, सरकार ने तीन साल में कोई विकास कार्य नहीं किया है इसलिए अब केजरीवाल सरकार पूर्ण राज्य के दर्जे की मांग कर ध्यान भटका रही है.

उन्होंने यह भी कहा कि जिस संघीय ढांचे पर केजरीवाल लगातार खुद को लाचार बता रहे हैं उसी ढांचे में बीजेपी और कांग्रेस ने सरकारें चलाई हैं और दिल्ली के विकास पर ध्यान दिया है जिसकी तस्वीर मेट्रो और बेहतरीन फ्लाईओवरों के जाल के रूप में देखी जा सकती है. हालांकि दिल्ली को पूर्ण राज्य के दर्जे के लिए बीजेपी तैयार है या नहीं, इसका उन्होंने खुद सीधा-सीधा जवाब नहीं दिया और कहा कि केजरीवाल को इसके लिए ऑल पार्टी मीट बुलानी चाहिए जिसमें इसकी समीक्षा की जाएगी. गौरतलब है कि अरविन्द केजरीवाल ने कल कहा है कि हमारी चुप्पी का गलत फायदा उठाया जा रहा है. साथ ही उन्होंने दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य की मांग को दोहराया है.  

You May Also Like

English News