केजरीवाल ने जन आंदोलन की चेतावनी दी

दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल का अपने तीन साथियों के साथ राजनिवास में धरने का आज छठा दिन है. धरने के पांचवें दिन केजरीवाल ने पीएम को पत्र भेजकर दो दिन में अधिकारियों की हड़ताल खत्म कराने की चेतावनी दी है , अन्यथा वह इस मामले को घर -घर ले जाएंगे.दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल का अपने तीन साथियों के साथ राजनिवास में धरने का आज छठा दिन है. धरने के पांचवें दिन केजरीवाल ने पीएम को पत्र भेजकर दो दिन में अधिकारियों की हड़ताल खत्म कराने की चेतावनी दी है , अन्यथा वह इस मामले को घर -घर ले जाएंगे.    बता दें कि आईएएस अधिकारियों की हड़ताल के मुद्दे को लेकर दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल , डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ,सत्येंद्र जैन और गोपाल रॉय राजनिवास में न केवल धरने पाकर बैठे हुए हैं , बल्कि सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन भूख हड़ताल भी कर रहे हैं.सिसोदिया ने अनशन के तीसरे दिन चेतावनी दी है कि यदि उनका अनशन जबरन तुड़वाया गया तो वह पानी पीना भी छोड़ देंगे. केजरीवाल ने दो दिन में हड़ताल खत्म न होने पर दिल्ली के 10 लाख लोगों से पत्र पर हस्ताक्षर कराकर पीएम आवास कूच करने की बात कही है .    उल्लेखनीय है कि केजरीवाल का यह धरना आंदोलन राजनीतिक दांव पेंच और अदालत में उलझ गया है. इसके जवाब में भाजपा भी आंदोलन पर उतर आई है .दिल्ली सचिवालय में धरने पर बैठे भाजपा नेताओं ने भी अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू कर दी है.केंद्रीय राज्यमंत्री विजय गोयल ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलकर दिल्ली सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है , वहीं दिल्ली हाई कोर्ट में सीएम के धरने और आईएएस अधिकारियों की हड़ताल के खिलाफ दायर याचिका पर सोमवार को सुनवाई की जायेगी .

बता दें कि आईएएस अधिकारियों की हड़ताल के मुद्दे को लेकर दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल , डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ,सत्येंद्र जैन और गोपाल रॉय राजनिवास में न केवल धरने पाकर बैठे हुए हैं , बल्कि सिसोदिया और स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन भूख हड़ताल भी कर रहे हैं.सिसोदिया ने अनशन के तीसरे दिन चेतावनी दी है कि यदि उनका अनशन जबरन तुड़वाया गया तो वह पानी पीना भी छोड़ देंगे. केजरीवाल ने दो दिन में हड़ताल खत्म न होने पर दिल्ली के 10 लाख लोगों से पत्र पर हस्ताक्षर कराकर पीएम आवास कूच करने की बात कही है .

उल्लेखनीय है कि केजरीवाल का यह धरना आंदोलन राजनीतिक दांव पेंच और अदालत में उलझ गया है. इसके जवाब में भाजपा भी आंदोलन पर उतर आई है .दिल्ली सचिवालय में धरने पर बैठे भाजपा नेताओं ने भी अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू कर दी है.केंद्रीय राज्यमंत्री विजय गोयल ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलकर दिल्ली सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है , वहीं दिल्ली हाई कोर्ट में सीएम के धरने और आईएएस अधिकारियों की हड़ताल के खिलाफ दायर याचिका पर सोमवार को सुनवाई की जायेगी .

You May Also Like

English News