कैप्टन कोहली ने बचाई 261 जिंदगियां

मुंबई में एक सीनियर कमांडर की सूझबुझ से एक भयानक हादसा होते-होते टल गया. यह तब हुआ जब दो विमान आपस में टकराते हुए बच गए, यह फासला इतना कम था कि अगर सिर्फ पलकें झपकने जितनी देर भी लगती तो मौत दोनों विमान में सवार सैकड़ों लोगों को अपना निवाला बना लेती. विस्तारा एयरलाइंस और एयर इंडिया के दो प्लेन हवा में एक दूसरे के इतने करीब आ गए थे कि, उनके बीच फासला 100 फ़ीट से भी कम रह गया था. कैप्टन कोहली ने बचाई 261 जिंदगियां

संभावित घटना के समय विस्तारा के प्लेन को को-पायलट (महिला) संभाल रही थीं जबकि उस समय प्लेन के पायलट टॉयलेट ब्रेक पर गए थे, 152 यात्रियों को लेकर विस्तारा का यूके-997 दिल्ली से पुणे जा रहा था. वहीं एयर इंडिया की एआई 631 विमान को मुंबई से भोपाल जाना था, जिसमे 109 यात्री मौजूद थे. इसी बीच एयर इंडिया की कमान संभाल रही सीनियर कमांडर कैप्टन कोहली ने अपने करीब आते हुए विस्तारा एयरलाइन के प्लेन को देखा जो उसी लेवल पर उड़ रहा था.

इसके साथ ही कॉकपिट में भी खतरे की घंटी बज उठी, कमांडर कैप्टन कोहली ने तुरंत अपने एयर इंडिया के विमान को ऊंचा उठाते हुए विस्तारा के प्लेन से दूर ले गई. उस दायरे से निकलने तक कॉकपिट में खतरे की घंटी बजती रही. एयर इंडिया ने इस समझदारी के लिए कोहली की सराहना की है. हालांकि अभी मामले की जांच चल रही है, विशेषज्ञों का कहना है कि दो विमान एक ही लेवल कि ऊंचाई पर क्यों उड़ रहे थे ?

You May Also Like

English News