‘कैप्टन सरकार के राज में 314 किसानों ने की आत्महत्या…

पंजाब में कांग्रेस सरकार ने लोगों से ठगी मारकर पंजाब की सत्ता हासिल की है। पूर्व अकाली-भाजपा सरकार ने लोगों के लिए जो भलाई स्कीमें व विकास कार्य शुरू किए थे उन्हें कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आते ही बंद कर दिया है। यह बात पूर्व विधायक एवं पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सुरजीत कुमार ज्याणी ने वीरवार को भाजपा कार्यालय में बैठक करते हुए कही।'कैप्टन सरकार के राज में 314 किसानों ने की आत्महत्या...ज्याणी ने कहा कि कांग्रेस सरकार के कुछ ही महीने के राज में सबसे अधिक किसानों ने आत्महत्या की है। उन्होंने कहा कि सत्ता हासिल करने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह द्वारा श्री गुटका साहिब की शपथ उठाकर पंजाब को तरक्की की तरफ लेकर जाने की बात कही थी, लेकिन कांग्रेस के करीब दस माह के राज में पंजाब का विकास ठप्प हो गया है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने बेरोजगारों से नौकरी के नाम पर फार्म भरवाकर और किसानों से कर्ज माफ करने की बात कहकर उनकी कीमती वोट हासिल की, जोकि सरासर पंजाब की जनता के साथ लूट है, क्योंकि पंजाब की कांग्रेस सरकार ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में किए गए किसी भी वादे को पूरा नहीं किया और लोगों से लिखित रूप में फार्म भरवाकर सीधे रूप में धोखाधड़ी की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के अब तक के 297 दिनों के राज में 314 किसानों ने आत्महत्या की है। 

उन्होंने बताया कि सरकार के कर्जमाफी योजना में कितना घोटाला है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि एक एक एकड़ वाले गरीब किसान का कर्ज माफ नहीं किया गया, जबकि 700 करोड़ की संपत्ति वाले पर्ल इंडिया कंपनी के मालिक का इस योजना में एक लाख 76 हजार रुपये कर्ज माफ गया है।

कांग्रेस की इन गलत नीतियों को लेकर भाजपा ने फैसला लिया है कि वह सरकार खिलाफ रोष धरने देगी और 16 जनवरी को जिला मुख्यालयों पर धरना लगाएगी। इस मौके पर नगर काउंसिल के प्रधान राकेश धूड़िया, भाजपा मंडल अध्यक्ष संजीव धूड़िया, पार्षद संदीप चलाना, अश्वनी फुटेला, बाबू लाल अरोड़ा, पार्षद बलवीर सिंह, जगदीश बसवाला, सुनील कश्यप, कमल प्रजापति, बलजीत सहोता आदि मौजूद थे। 

You May Also Like

English News