कैसे धोनी की एक सलाह ने बदल दी श्रेयस अय्यर की जिंदगी

भारतीय बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने अपने करियर को लेकर काफी चौंकाने वाले खुलासे किए जिसमें उन्होंने कहा कि कैसे भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की एक सलाह ने उनकी जिंदगी बदल दी. जिस कारण वो अपना पूरा ध्यान क्रिकेट पर लगाने में कामयाब हो सके. इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान इस 23 साल के बल्लेबाज को उस समय कप्तान बनाया गया जब टीम के खराब प्रदर्शन के बाद गौतम गंभीर ने बीच में ही टीम की कप्तानी छोड़ दी थी. एक टॉक शो के दौरान श्रेयस अय्यर ने कहा कि धोनी ने उन्हें कहा था कि वो अखबारों से दूर रहें और सोशल मीडिया पर ज्यादा समय बर्बाद न करें. ये उस समय की बात है जब श्रेयस अय्यर टीम के ड्रेसिंग रूम में नए थे.भारतीय बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने अपने करियर को लेकर काफी चौंकाने वाले खुलासे किए जिसमें उन्होंने कहा कि कैसे भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की एक सलाह ने उनकी जिंदगी बदल दी. जिस कारण वो अपना पूरा ध्यान क्रिकेट पर लगाने में कामयाब हो सके. इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान इस 23 साल के बल्लेबाज को उस समय कप्तान बनाया गया जब टीम के खराब प्रदर्शन के बाद गौतम गंभीर ने बीच में ही टीम की कप्तानी छोड़ दी थी. एक टॉक शो के दौरान श्रेयस अय्यर ने कहा कि धोनी ने उन्हें कहा था कि वो अखबारों से दूर रहें और सोशल मीडिया पर ज्यादा समय बर्बाद न करें. ये उस समय की बात है जब श्रेयस अय्यर टीम के ड्रेसिंग रूम में नए थे.  श्रेयस अय्यर ने कहा कि, जब मैंने भारतीय टीम को ज्वाइन किया तो धोनी ने मुझे सलाह दी कि मैं अखबारों से दूर रहूं और सोशल मीडिया पर कम फोकस करूं. उन्होंने आगे कहा कि सोशल मीडिया हमराी जिंदगी का एक अहम हिस्सा है जिसे मैं काफी अच्छे से मैनेज करता हूं. तो वहीं लोगों के जरिए की गई आलोचना मुझे आगे बढ़ने में मदद करती है.  श्रेयस अय्यर ने बताया कि किस तरह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में जगह बनाने के बाद उनकी एक फीमेल फ्रेंड का व्यवहार बदल गया था. उन्होंने कहा, ‘जैसे ही नीलामी की खबर बाहर आई, उस लड़की ने मुझे मैसेज भेजना शुरू कर दिया. जब मैंने पूछा कि वह लगातार मुझसे बात करने की कोशिश क्यों कर रही हैं तो मुझे जवाब मिला की वह मेरे लिए खुश हैं. हालांकि मुझे समझ आ गया और तब मुझे पता चला की वह मेरे पीछे नहीं पैसे के पीछे हैं. ’  श्रेयस अय्यर का आईपीएल सीजन काफी अच्छा गया था जहां उन्होंने कुल 14 मैचों में 132 की स्ट्राइक रेट से 411 रन बनाए थे. लेकिन उनकी यह शानदार मेहनत दिल्ली को डूबने से नहीं बचा पाई. श्रेयस अय्यर ने भारत के लिए अभी तक कुल 6 वनडे मैच ही खेले है जहां उन्होंने 42 के एवरेज से 210 रन बनाए हैं जिसमें दो अर्धशतक भी शामिल है. अय्यर 6 टी-20 भी खेल चुके हैं जहां उन्होंने 16.6 के एवरेज से कुल 83 रन बनाए हैं.
श्रेयस अय्यर ने कहा कि, जब मैंने भारतीय टीम को ज्वाइन किया तो धोनी ने मुझे सलाह दी कि मैं अखबारों से दूर रहूं और सोशल मीडिया पर कम फोकस करूं. उन्होंने आगे कहा कि सोशल मीडिया हमराी जिंदगी का एक अहम हिस्सा है जिसे मैं काफी अच्छे से मैनेज करता हूं. तो वहीं लोगों के जरिए की गई आलोचना मुझे आगे बढ़ने में मदद करती है.

श्रेयस अय्यर ने बताया कि किस तरह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में जगह बनाने के बाद उनकी एक फीमेल फ्रेंड का व्यवहार बदल गया था. उन्होंने कहा, ‘जैसे ही नीलामी की खबर बाहर आई, उस लड़की ने मुझे मैसेज भेजना शुरू कर दिया. जब मैंने पूछा कि वह लगातार मुझसे बात करने की कोशिश क्यों कर रही हैं तो मुझे जवाब मिला की वह मेरे लिए खुश हैं. हालांकि मुझे समझ आ गया और तब मुझे पता चला की वह मेरे पीछे नहीं पैसे के पीछे हैं. ’

श्रेयस अय्यर का आईपीएल सीजन काफी अच्छा गया था जहां उन्होंने कुल 14 मैचों में 132 की स्ट्राइक रेट से 411 रन बनाए थे. लेकिन उनकी यह शानदार मेहनत दिल्ली को डूबने से नहीं बचा पाई. श्रेयस अय्यर ने भारत के लिए अभी तक कुल 6 वनडे मैच ही खेले है जहां उन्होंने 42 के एवरेज से 210 रन बनाए हैं जिसमें दो अर्धशतक भी शामिल है. अय्यर 6 टी-20 भी खेल चुके हैं जहां उन्होंने 16.6 के एवरेज से कुल 83 रन बनाए हैं.

You May Also Like

English News