कोच जेनिदिन जिदान ने दिया इस्तीफा

फ्रांस की राष्ट्रीय टीम के पूर्व कोच 45 वर्षीय जिदान ने घोषणा करते हुए कहा है कि वह स्पेनिश क्लब रियल मैड्रिड से इस्तीफा दे रहे है.  बता दें कि रियल मैड्रिड को पिछले हफ्ते लगातार तीसरी बार चैम्पियंस लीग का खिताब दिलाने वाले फ्रैंच कोच जिनेदिन जिदान ने अपने पद से इस्तीफा देकर अपनी टीम और सभी को अचंभित कर दिया है.फ्रांस की राष्ट्रीय टीम के पूर्व कोच 45 वर्षीय जिदान ने घोषणा करते हुए कहा है कि वह स्पेनिश क्लब रियल मैड्रिड से इस्तीफा दे रहे है.  बता दें कि रियल मैड्रिड को पिछले हफ्ते लगातार तीसरी बार चैम्पियंस लीग का खिताब दिलाने वाले फ्रैंच कोच जिनेदिन जिदान ने अपने पद से इस्तीफा देकर अपनी टीम और सभी को अचंभित कर दिया है.     गौरतलब है कि जिदान पहले ऐसे कोच बन गए जिनके मार्गदर्शन में क्लब ने लगातार तीन बार लीग खिताब जीता. पिछले शनिवार को खेले गए मैच में रियल ने लिवरपूल को 3-1 से हराकर लगातार तीसरी बार चैम्पियंस लीग खिताब जीता था. साथ ही यहाँ कोच जिदान ने कहा- मुझे पता है कि इस तरह के फैसले लेने का ये पल अजीब है, लेकिन ये जरूरी था. मुझे सबके लिए ये करना ही था.     यहाँ पर  45 साल के जिदान ने कहा, मुझे इस क्लब से प्यार है. मेरा ये मानना है कि इस टीम को जीत की राह पर अपना सफर बरकरार रखना चाहिए, लेकिन मुझे लगता है कि इसे बदलाव की जरूरत है. जिदान ने कहा- क्लब को एक नई आवाज की जरूरत है, एक नई पद्धति की जरूरत है और इसीलिए, मैंने ये फैसला लिया है. फरवरी में एक बयान में जिदान ने कहा था कि अगर उन्हें ऐसा महसूस हुआ कि उनकी ओर से क्लब को और कुछ देने की जरूरत नहीं है, तो वो कोच पद से अलग हो जाएंगे.

गौरतलब है कि जिदान पहले ऐसे कोच बन गए जिनके मार्गदर्शन में क्लब ने लगातार तीन बार लीग खिताब जीता. पिछले शनिवार को खेले गए मैच में रियल ने लिवरपूल को 3-1 से हराकर लगातार तीसरी बार चैम्पियंस लीग खिताब जीता था. साथ ही यहाँ कोच जिदान ने कहा- मुझे पता है कि इस तरह के फैसले लेने का ये पल अजीब है, लेकिन ये जरूरी था. मुझे सबके लिए ये करना ही था.

यहाँ पर  45 साल के जिदान ने कहा, मुझे इस क्लब से प्यार है. मेरा ये मानना है कि इस टीम को जीत की राह पर अपना सफर बरकरार रखना चाहिए, लेकिन मुझे लगता है कि इसे बदलाव की जरूरत है. जिदान ने कहा- क्लब को एक नई आवाज की जरूरत है, एक नई पद्धति की जरूरत है और इसीलिए, मैंने ये फैसला लिया है. फरवरी में एक बयान में जिदान ने कहा था कि अगर उन्हें ऐसा महसूस हुआ कि उनकी ओर से क्लब को और कुछ देने की जरूरत नहीं है, तो वो कोच पद से अलग हो जाएंगे.

You May Also Like

English News