कोरियर द्वारा विदेशों में भेजे जा रहे पुराने नोट

नई दिल्ली। पीएम मोदी ने जब कालेधन पर रोक लगाने के लिए नोटबंदी लगाई तो विपक्षी पार्टियों ने जमकर हमला किया। वहीं देश की आम जनता को भी अचानक नोटबंदी होने के कारण काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। वहीं कालेधन को लेकर कस्टम विभाग ने एक बड़ा खुलासा किया है। विभाग ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा 500 और 1000 के नोटों को अवैध घोषित करने के बावजूद भी लोग ब्लैकमनी को व्हाइट करने के लिए एक नया तरीका ढ़़ूंढा है। आइये जानते क्या है पूरा मामला।

अभी-अभी: इंटर स्टेट काउंसिल की बैठक हुई शुरू, CM योगी भी हिस्सा लेने पहुंचे…

कस्टम विभाग ने किया बड़ा खुलासा

कस्टम विभाग ने बताया है कि कई लोग पुराने नोटों को बदलवाने के लिए कोरियर के द्वारा विदेशों पैसे भेजे रहे हैं। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कस्टम विभाग ने कोरियर से 500 और 1000 के नोटों को विदेश भेजने वाले ऐसे ही गिरोह का भंडाफोड़ किया है। उन्होंने ये भी कहा कि पंजाब से ऑस्ट्रेलिया भेजे जा रहे ऐसे ही एक कोरियर का गिरोह को पकड़ा गया है, जहां से 1 लाख के पुराने नोट बरामद किया गए है।

इतना ही नहीं कुछ लोग कोरिया और संयुक्त अरब अमीरात भी पुराने नोटों को बदलवाने के लिए कोरियर द्वारा पैसे भेज रहे हैं। कस्टम विभाग ने ऐसे कुछ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। नोटबंदी के फैसले के बाद सरकार ने विदेश में रह रहे भारतीय मूल के लोगों को पुराने नोटों को बदलने के लिए 30 जून तक का वक्त दिया है। ऐसे में सरकार के द्वारा दी गई इस छूट का फायदा उठाते हुए लोग कुरियर से पुराने नोट बदलने का एक नया तरीका ढूढ़ लिया है।

 

You May Also Like

English News