कोहली बोले यूं ही ‘विराट’ नहीं, तस्वीर ने बयां कर दिया सबकुछ

गुरुवार का दिन देश के सभी क्रिकेटप्रेमियों के लिए गौरव का पल था, जब भारतीय कप्तान विराट कोहली गुरुवार शाम को देश के चौथे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म श्री से सम्मानित किया गया।

विराट को यह सम्मान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने दिया। कोहली के अलावा मुरली मनोहर जोशी, शरद पवार समेत कुल 89 लोगों को पद्म सम्मान से सम्मानित किया गया।
टीम को बनाया नंबर 1 हाल ही में ऑस्ट्रेलिया को हरा कर टीम इंडिया ने लगातार सातवीं टेस्ट सीरीज पर कब्जा किया है। धर्मशाला टेस्ट जीतने के साथ ही अगस्त 2015 में शुरू हुई टीम इंडिया की सीरीज जीत के सफर को और आगे बढ़ाया।
विराट की कप्तानी में ही भारत ने लगातार 19 टेस्ट मैचों तक ना हारने का रिकॉर्ड भी कायम किया। तो वहीं विराट की शानदार कप्तानी के दमपर ही भारत को अभी आईसीसी की टेस्ट गदा भी प्राप्त हुई है।
भारत की रन मशीन विराट: विराट कोहली जब से भारतीय टीम में शामिल हुए हैं, वह टीम का अहम हिस्सा रहे हैं. दिन पर दिन उनका खेल निखरता ही गया है। पिछले कुछ सालों में वह भारत की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों में से रहे हैं।
28 वर्षीय विराट ने अभी तक कुल 57 टेस्ट में 4497 रन बनाये हैं, तो वहीं 179 वनडे में 7755 रन बनाये हैं। टी-20 में भी उनका रिकॉर्ड शानदार रहा है, उन्होंने 48 टी-20 में 1709 रन बनाये हैं। 
शतकों की खान हैं विराट: पूर्व भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के बाद विराट कोहली ही हैं जो लगातार शतकों की झड़ी लगाते जा रहे हैं। अभी विराट की उम्र मात्र 28 वर्ष है और उनके शतकों की कुल संख्या 43 हो चुकी है। विराट ने अभी तक टेस्ट में 16 और वनडे में 27 शतक जड़े हैं। सचिन तेंदुलकर के नाम कुल 100 अंतरराष्ट्रीय शतकों का रिकॉर्ड दर्ज है।
क्रिकेट में इकलौते विराट: इस साल पद्म सम्मान से सम्मानित होने वाले खिलाड़ियों में क्रिकेट से केवल विराट ही हैं। कोहली के अलावा भारतीय हॉकी कप्तान पीआर श्रीजेश, रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता पहलवान साक्षी मलिक, जिमनास्ट दीपा करमाकर, पैरालिंपियन मरियप्पन थंगावेलू, पैरालंपियन दीपा मलिक, डिस्कर थ्रोअर विकास गौड़ा, ब्लाइंड क्रिकेट टीम के कप्तान शेखर नाइक को भी पद्म श्री पुरस्कार से नवाजा गया।
loading...

You May Also Like

English News