क्या आपको भी हो रही हैं PF क्लेम करने में दिक्कत, तो करें ये आसान से काम

पीएफ क्लेम करने में अगर परेशानी आ रही है तो ये मुश्किल आपकी खत्म हो सकती है। बस इसके लिए ये आसान से काम करने होंगे।क्या आपको भी हो रही हैं PF क्लेम करने में दिक्कत, तो करें ये आसान से काम#बड़ी खबर: बैंक जाने से पहले जरूर पढ़ लें RBI का ये नया फरमान….

अब पीएफ क्लेम पाने के लिए आपको पीएफ कार्यालय के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। केंद्र सरकार के उमंग एप पर कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने काम शुरू कर दिया है। मंगलवार को पीएफ ऑफिस में प्रेस वार्ता के दौरान ईपीएफओ कमिश्नर मनोज कुमार यादव ने बताया कि पीएफ से जुड़ी तमाम जानकारियां अब उमंग एप के माध्यम से ही मिल जाएंगी।

ईपीएफओ से जुड़ा उमंग एप खाताधारक को डाउनलोड करना होगा। इसमें जरूरी जानकारियां फीड करनी होंगी। पीएफ कमिश्नर मनोज कुमार यादव के मुताबिक, घर बैठे मोबाइल एप से ही पीएफ के लिए भी क्लेम कर सकते हैं।

यह क्लेम तीन दिन में निपटा दिया जाएगा। खास बात यह है कि इस मोबाइल एप में खाताधारक अपना बैलेंस भी देख सकता है और क्लेम को ट्रैक भी कर सकता है। एप पर इंप्लायर के लिए यह भी सुविधा है कि वह अपनी इस्टैबलिशमेंट आईडी बनाकर पूरी ट्रांसेक्शन का स्टेटस देख सकता है।

ऐसे करें एप डाउनलोड
अपने एंड्रॉयड मोबाइल के प्ले स्टोर में जाएं। यहां umang टाइप करके सर्च का बटन दबाएं। एप को डाउनलोड करें और इसमें अपना नाम, पता और यूनिक आईडी नंबर (यूएएन) फीड करें। मोबाइल नंबर डालें। एक वन टाइम पासवर्ड मोबाइल पर आएगा।

इसे फीड करते ही उमंग एप में आपकी पीएफ पासबुक खुल जाएगी। यहीं से आप ऑनलाइन पीएफ के लिए क्लेम भी कर सकते हैं।

जीवन प्रमाण-पत्र भी करें डाउनलोड
ईपीएफओ ने उमंग एप के माध्यम से एक और ऑनलाइन सुविधा शुरू की है। इसके तहत जिन पेंशनधारकों को जीवन प्रमाण-पत्र जमा कराने को पीएफ कार्यालय के चक्कर काटने पड़ते थे, अब वह इस एप से सीधे घर बैठे ही फोटो अपलोड कर सकते हैं। यह प्रमाण-पत्र नवंबर में जमा होता है।

खुद जेनरेट करें पीएफ यूएएन नंबर
सभी पीएफ खाताधारकों के लिए यूएएन नंबर अनिवार्य है। वेबसाइट पर ऑनलाइन यूएएन खुद जेनरेट किया जा सकता है। इसके लिए आधार लिंक्ड मोबाइल नंबर फीड करना होगा। उस मोबाइल पर एक वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) आएगा।

इसे फीड करने के बाद अपना नाम, जन्मतिथि, लिंग, पिता का नाम आदि जानकारी भरें। आपका यूएएन नंबर जेनरेट हो जाएगा। इसे संभालकर रख लें। उमंग एप से लेकर सभी कार्यों के लिए यूएएन नंबर जरूरी है।

You May Also Like

English News