क्या होता है अंबानी के एंटीलिया से निकलने वाले कचरे का?

एंटीलिया हो या बिजनेस की कोई डील देश के सबसे अमीर बिजनेसमैन मुकेश अंबानी अक्सर सुर्खियों में रहते हैं. लेकिन इन दिनों उनसे उड़ी एक ऐसी बात सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है, जिसे जानकार हर होई ताज्जुब कर रहा है.क्या होता है अंबानी के एंटीलिया से निकलने वाले कचरे का?
 अभी-अभी: PAK में बैठा डॉन ने PM मोदी को दी बड़ी धमकी, कहा- दाऊद को छू भी नहीं सकती सरकार

दरअसल, सोशल मीडिया पर यह खबर वायरल हो रही है कि एंटीलिया से निकलने वाले कचरे का इस्तेमाल बिजली बनाने के लिए होता है. यह बिजली एंटीलिया के अन्दर ही छोटे बायो प्लांट में तैयार होती है.
 

वायरल मैसेज में यह भी कहा गया है कि कचरे से बनी बिजली का इस्तेमाल अंबानी एंटीलिया में ही करते हैं. ऐसा करने से उनके बिजली के बिल में भी बचत होती है. हालांकि, यह बात सच है या झूठ इसकी पुष्टि aajtak.in नहीं करता.
 

बता दें कि मुकेश अंबानी का घर एंटीलिया देश ही नहीं बल्कि दुनिया के सबसे बड़े घरों में से एक है. इसे बनाने की लागत करीब 11 हजार करोड़ रुपए बताई जाती है.  
 

इस‍का नाम ‘एंटीलिया’ है. कहा जाता है कि अटलांटिक महासागर के एक पौराणिक द्वीप के नाम पर इसका नाम ‘एंटीलिया’ रखा गया है.
 

27 मंजिला घर के अंदर करीब 600 लोग काम करते हैं. ये घर कुल 4,00,000 स्क्वेयर फीट में बना है. खास बात ये है कि घर के हर कमरे का इंटीरियर दूसरे से अलग दिखता है.
 

‘एंटीलिया’ में पहले 6 फ्लोर केवल पार्किंग के लिए बनाए गए हैं. घर में एक साथ 168 कारें पार्क की जा सकती हैं. पार्किंग के ऊपर वाले फ्लोर में 50 सीटर सिनेमा हॉल है. उसके ऊपर आउटडोर गार्डन है.
 

पत्‍नी, बच्‍चों और मां के साथ मुकेश अंबानी टॉप फ्लोर्स से ठीक नीचे वाले फ्लोर में रहते हैं. घर में 9 लिफ्ट लगी हैं. घर में 1 स्पा और मंदिर भी है.

You May Also Like

English News