क्रिकेटर्स को क्यों मिलता हैं ऐसे जर्सी नंबर, जानकर उड़ जाएंगे आपके होश 

दोस्तों, क्रिकेट देश की हर गली में खेला जाने वाला खेल है. भारत का राष्ट्रीय खेल हॉकी है लेकिन यहां आज भी क्रिकेट को हॉकी से अधिक महत्व मिलता है. ऐसे में क्रिकेट के दीवानों आज हम आपको क्रिकेट से जुड़ी एक ऐसी बात बताने जा रहे हैं, जिसका जवाब आपको शायद ही आज तक मिला हो. आपने कई बार सोचा होगा कि खिलाड़ियों की जर्सी पर जो नंबर होता है वह उन्हें कैसे मिलता है और उस नंबर के पीछे का राज क्या होता है…तो आज हम आपको दोस्तों इसी सवाल का जवाब नीचे विस्तार से देंगे. 

आज हम आपको इस लेख में कुछ भारतीय क्रिकेटर्स की जर्सी के नंबर के बारे में बताएंगे साथ ही उसके पीछे के राज से भी आपको रूबरू कराएंगे. आपको बता दे कि खिलाड़ी अपनी जर्सी का नंबर खुद तय करते है इसके पीछे क्रिकेट बोर्ड का कोई रोल नही रहता है. 

– भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर 10 नंबर की जर्सी पहनकर मैदान में उतरते थे, एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि उनके सरनेम में शुरुआत में TEN आता है इसलिए उन्होंने यह नंबर चुना. 

– युवराज सिंह की जर्सी का नंबर 12 है. उनका जन्म 12 दिसंबर को रात 12 बजे हुआ था, और वे उस समय चंडीगढ़ में सेक्टर 12 में रहते थे.

– भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का जन्म 7 जुलाई 1981 को हुआ था. और उन्होंने इसे देखते हुए अपना जर्सी नंबर भी 7 रखा. 

– भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली का जर्सी नंबर 18 है, इसे लेकर वे कहते है कि उन्होंने इसलिए यह नंबर रखा क्योंकि उनके पिता का निधन 18 दिसंबर 2006 को हुआ था. 

You May Also Like

English News