इस नई कला ने क्रिकेट में मचा दी है खलबली, क्या आपने इस पर ध्यान दिया…

क्रिकेट का इतिहास गवाह है कि इस खेल में कई बार नई-नई कला आती रही हैं। कुछ लंबे समय के लिए मौजूद रहीं तो कुछ समय के साथ गायब हो गईं। इन दिनों आइपीएल में एक ऐसी ही कला धूम मचा रही है। गेंदबाजों की एक ऐसी कला जो धीरे-धीरे बल्लेबाजों के लिए सबसे बड़ी चुनौती बनती जा रही है। क्या है ये नया फॉर्मूला और कल रात किसने किया इसका उपयोग, आइए जानते हैं।

कौल की अनोखी बॉल

रविवार रात कोलकाता नाइट राइडर्स और हैदराबाद के बीच एक शानदार मुकाबला हुआ। डेविड वॉर्नर (126) की ताबड़तोड़ पारी के दम पर हैदराबाद ने कोलकाता को 210 रनों का विशाल लक्ष्य दिया। कोलकाता की टीम लक्ष्य का पीछा करने में उस्ताद है लेकिन इसके लिए उनके लय में दिख रहे कप्तान का चलना जरूरी था। कप्तान गंभीर का चलना तो दूर, वो तीसरे ही ओवर में 11 रन बनाकर कैच आउट हो गए। उन्हें आउट किया सिद्धार्थ कौल (फोटो में) ने। गंभीर इस गेंद को ठीक से समझ नहीं सके और हवा में शॉट खेल दिया जिस पर राशिद खान ने कैच लपक लिया। जब टीवी रीप्ले देखा तो पता चला कि ये गेंद एक ‘नकल बॉल’ (Knuckle Ball) थी।

आखिर क्या है ये ‘नकल बॉल’

ये गेंद क्रिकेट की नहीं बल्कि चर्चित अमेरिकी खेल बेसबॉल की देन है। वहां गिने-चुने कुछ ऐसे पिचर्स (गेंद फेंकने वाले खिलाड़ी) हैं जो इस गेंद को करने में माहिर हैं। ‘नकल’ यानी अंगुलियों के जोड़। नाम से तो लगता है कि इसे उस गेंद को कहते होंगे जो नकल के उपयोग से फेंकी जाती हो लेकिन ऐसा है नहीं।

दरअसल, इस गेंद को गेंदबाज अपनी अंगुलियों के अंतिम छोर से पकड़कर फेंकते हैं। इस डिलीवरी की खास बात ये है कि ये गेंद हवा में घूमती हुई नजर नहीं आएगी, बल्कि किसी एक दिशा में बिना हरकत के बिलकुल सीधी जाती नजर आएगी। ठीक किसी पत्थर के गिरने जैसा प्रभाव। बाउंस के बाद ये गेंद हवा के दबाव और गेंदबाज के जोर को देखते हुए किसी भी दिशा में रुख कर सकती है। बल्लेबाजों के लिए इस गेंद पर शॉट का चयन करना बेहद मुश्किल होता जा रहा है। 

इस आइपीएल में ये 3 धुरंधर चौंका रहे हैं

क्रिकेट में नकल बॉल की बात की जाए तो दिल्ली डेयरडेविल्स के मौजूदा कप्तान व पूर्व भारतीय पेसर जहीर खान भी एक समय इससे मिलती-जुलती गेंद किया करते थे लेकिन उस समय इसने ज्यादा चर्चा नहीं बटोरी। आज आइपीएल में तीन ऐसे गेंदबाज हैं जो समय-समय पर इसका इस्तेमाल करके बल्लेबाजों को परेशान कर रहे हैं।

एंड्रयू टाइ

इनमें सबसे ऊपर नाम आता है गुजरात लायंस के ऑस्ट्रेलियाई धुरंधर एंड्रयू टाइ का जिन्होंने आइपीएल के अपने पहले ही मैच में हैट्रिक ले ली थी। उस मैच के अंतिम ओवर में जब दो लगातार गेंदों पर वो विकेट ले चुके थे तब तीसरी गेंद पर शर्दुल ठाकुर को उन्होंने नकल बॉल से ही बोल्ड किया था। टाइ के मुताबिक वो पिछले 4-5 सालों से इस गेंद पर महारथ हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं।

भुवनेश्वर कुमार

उनके अलावा मौजूदा सीजन में जबरदस्त प्रदर्शन कर रहे भारतीय गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने भी पंजाब के खिलाफ 84 रन बनाकर खेल रहे शॉन मार्श को आउट करके जब खतरा टाला था, तब वो भी एक नकल बॉल ही थी।

सिद्धार्थ कौल

हैदराबाद के 26 वर्षीय गेंदबाज सिद्धार्थ कौल (फोटो में) ने रविवार रात गंभीर को नकल बॉल पर ही आउट किया और वो भी कई मौकों पर इसको आजमाते नजर आ रहे हैं। देखना दिलचस्प होगा कि क्या ये गेंद भी ‘दूसरा’ की तरह गायब हो जाती है या आने वाले समय में गेंदबाजों का सबसे बड़ा हथियार बनती है।

 

You May Also Like

English News