सचिन का खुलासा, सुबह उठने में जोर लगाना पड़ा तो लगा संन्यास का वक्त आ गया

भारत के दिग्गज क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर गुरुवार को पेशेवर नेटवर्किंग वेबसाइट लिंक्डइन से जुड़ गए हैं. वह इस साइट से लिंक्डइन इंफ्लूअंसर के तौर पर जुड़े हैं. एक बयान के मुताबिक, विश्व भर में 500 से ज्यादा लोग इस वेबसाइट से इंफ्लूअंसर के तौर पर जुड़े हैं, सचिन पहले क्रिकेट खिलाड़ी हैं, जो वेबसाइट से इस रूप में जुड़े हैं.सोशल नेटवर्किंग साइट LinkedIn से जुड़ने की जानकारी खुद सचिन ने ट्वीट करके दी. उन्होंने लिखा कि लिंक्डइनइंडिया पर आकर एक्साइटेड हूं. इसके साथ ही सचिन ने ‘माई सेकंड इनिंग’ टाइटल से एक ब्लॉग भी लिखा है, जिसमें उन्होंने बताया है कि उन्हें कब लगा कि अब क्रिकेट छोड़ देना चाहिए.

ब्लॉग में सचिन ने लिखा, ‘अक्टूबर 2013 में दिल्ली चैम्पियंस लीग गेम्स चल रहे थे. मेरी सुबह की शुरुआत की जिम वर्कआउट के साथ होती थी, जिसे मैं पिछले 24 वर्षों से फॉलो कर रहा था, लेकिन वह सुबह कुछ बदली हुई सी थी.’सचिन ने आगे लिखा, ‘मैंने महसूस किया कि मुझे उठने और दिन की शुरुआत करने के लिए जो ताकत चाहिए थी उसमें कमी महसूस हो रही थी. उस सुबह उठने में मुझे जोर लगाना पड़ रहा था. इस बदलाव के बाद हमने महसूस किया कि जिम वर्कआउट मेरे क्रिकेट करियर के लिए कितना महत्वपूर्ण है. जो काम मैं पिछले 24 साल से डेली करता आ रहा था, लेकिन उस सुबह मेरी कुछ करने की इच्छा नहीं हो रही थी, क्यों?’

सचिन की मानें तो ये वो संकेत था जो अहसास करा रहा था कि अब मुझे रुक जाना चाहिए. क्योंकि खेल मेरे जिंदगी का सबसे प्यारा हिस्सा था, लेकिन उस दिन मुझे लगा कि अगर मैं कुछ फैसला नहीं लेता हूं तो फिर मैं खेल के साथ न्याय नहीं कर पाऊंगा.

यह भी पढ़े- अभी अभी: एयरपोर्ट के पास हुआ जोरदार धमाका, दहला उठा पूरा देश…

लिंक्डइन में उनका पहला पोस्ट उनके क्रिकेट के बाद व्यवसायी बनने में हासिल की गई सफलता के बारे में बताती है. तेंदुलकर इस मंच के जरिये ज्यादा तादाद में लोगों के साथ जुड़ने और उन्हें अपने-अपने क्षेत्रों में बेहतर करने की शिक्षा देने के उद्देश्य से जुड़े हैं.

सचिन ने कहा, ‘मैं लगातार सीख रहा हूं और हालिया दौर में मैदान के बाहर मैंने काफी कुछ सीखा है. यह अनुभव मेरे अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के अनुभव से अलग है. एक टीम का हिस्सा होना और लगातार सीखते रहना मेरे आगे बढ़ने का कारण है.’

यह भी पढ़े- बड़ी ख़बर: डोनाल्ड ट्रंप ने इस भारतीय को US सर्जन जनरल के पद से किया बेदख़ल

क्रिकेट में भगवान का दर्जा पा चुके सचिन का मानना है कि इस कंपनी के साथ कई मौकों पर वह अपने मैदान के अनुभव का उपयोग कर कंपनी को फायदा पहुंचा सकते हैं. उन्होंने कहा, ‘मेरा लक्ष्य अपना अनुभव लिंक्डइन जैसे मंच के साथ साझा करना है, ताकि मैं बड़ी तादाद में पेशेवर लोगों और उद्यामियों तक पहुंच सकूं और उन्हें एक अलग सोच दे सकूं तथा उनके हर दिन के प्रदर्शन को बेहतर करने में उनकी मदद कर सकूं.’

लिंक्डइन इंफ्लूअंसर बनने के बाद सचिन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा और राजनेता शशि थरूर के समूह में आ गए हैं. 

यह भी पढ़े-  मैच के बाद पुणे कोलकाता के खिलाड़ियों ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि

You May Also Like

English News