‘क्रूर’ मंगल ने बदली चाल, इन राशियों पर होगा बुरा असर

मंगल को क्रूर ग्रह माना जाता है. मंगल ग्रह ऊर्जा, शक्ति एवं पराक्रम का कारक है. इसके अलावा यह रक्तपात एवं ख़ून से संबंधित बीमारियों का भी प्रतिनिधित्व करता है. कर्क एवं सिंह राशि के लिए मंगल एक योगकारक ग्रह है और यह मेष एवं वृश्चिक राशि का स्वामी ग्रह है. मंगल साहस और संकल्प शक्ति को भी दर्शाता है. यदि मंगल जातक की कुंडली में तीसरे, छठे, दसवें एवं ग्यारहवें भाव में स्थित हो तो इसके परिणाम अच्छे और लाभकारी होंगे. आइए जानते हैं आपकी राशि के लिए क्या कहता है मंगल का गोचर.'क्रूर' मंगल ने बदली चाल, इन राशियों पर होगा बुरा असर
 

मंगल कई चीज़ों का कारक है और इसे मुख्‍य रूप से साहस का कारक माना जाता है इसलिए मंगल की स्थिति बदलने के साथ काफी चीजों की स्थिति बदलने वाली है. 17 जनवरी 2018 बुधवार को 05:34 बजे मंगल, तुला राशि से निकलकर वृश्चिक राशि में प्रवेश करने जा रहा है जिसके बाद से हर राशि पर प्रभाव पड़ना तय है.
 

मेष राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-इस अवधि में वैवाहिक जीवन में तनाव रहेगा. सेहत संबंधी परेशानी आ सकती है. कार्यक्षेत्र भी प्रभावित होगा और किसी लंबी यात्रा के योग हैं. कानूनी मसले में हार मिल सकती है, हालांकि मेष राशि के जातकों के लिए मंगल धनेश हैं और वो अपनी ही राशि में होंगे इसलिए धन संबंधी मामलों में सफलता हाथ लगेगी.
 

वृषभ राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-वृषभ राशि के जातकों के लिए यह गोचर अच्छा फलदायी नहीं है. इस दौरान आपको अपने विवाहित जीवन में बहुत से समझौते करने पड़ सकते हैं, इसके लिए तैयार रहें.
 

मिथुन राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-मिथुन राशि के जातकों को संतान की ओर से कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. आपको साथ ही साथ अपने शत्रुओं से भी सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि मंगल ग्रह आपके शत्रुओं को और मजबूत कर देगा. दांपत्य जीवन में परेशानियां खड़ी हो सकती हैं.
 

कर्क राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-मंगल के इस गोचर की यह अवधि आपके लिए शुभ है. आप अपनी संतान के स्वास्थ्य को लेकर संतुष्ट रहेंगे. आपके बच्चे विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं में सफलता प्राप्त करेंगे, जिससे आपके मन को काफी प्रसन्नता रहेगी.
 

सिंह राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-यह गोचर आपकी पारिवारिक खुशियों को ग्रहण लगा सकता है लेकिन कार्य में प्रगति होगी. छोटी यात्राएं करनी पड़ सकती हैं. प्रेम संबंध अच्‍छे रहेंगे. कुछ वित्तीय लाभ की संभावना है. पिता या परिवार में किसी बड़े सदस्‍य के साथ मतभेद हो सकते हैं।
 

कन्या राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-मंगल गोचर आपके अंदर अदम्य साहस पैदा करेगा. आप अपने शत्रुओं पर विजय हासिल करने लगेंगे. आप अत्यधिक रोमांटिक भी रहेंगे जिसकी वजह से आपकी मैरिड लाइफ और प्रेम संबंध में जान आ जाएगी.
 

तुला राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-तुला राशि के जातकों को इस समय वाणी पर बहुत संयम रखने की आवश्यकता है अन्यथा परेशानी में पड़ सकते हैं. आपकी अपनी वजह से ही लोग आपसे दूर जाने लगेंगे, इसलिए आपको अपने क्रोध और समस्त नकारात्मक भावनाओं पर नियंत्रण रखना होगा.
 

वृश्चिक राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-आप अपने स्वास्थ्य को लेकर अत्यधिक संतुष्ट रहेंगे. आप जो भी काम अपने हाथ में लेंगे उन्हें अवश्य ही पूर्ण कर पाएंगे, इसलिए घबराने की आवश्यकता नहीं है. आप स्वयं के भीतर उत्साह को महसूस करेंगे.
 

धनु राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-इस दौरान आपको अपनी बुरी आदतों पर नियंत्रण रखने की आवश्यकता है, खासकर खर्च करने की आदत को तो आपने छोड़ना ही पड़ेगा. अगर आप ऐसा कर पाने में सक्षम हो गए तो आप अपने धन को किसी ऐसी जगह निवेश करेंगे जहां से आपको अच्छा फायदा होगा.
 

मकर राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-जिन लोगों की राशि मंगल है, उनके लिए यह गोचर लाभेश की भूमिका निभाएगा. जो लोग अपना व्यवसाय कर रहे हैं उनके लिए यह समय फायदा पहुंचाएगा. साथ ही नौकरी पेशा लोगों के लिए भी उन्नति के अपार अवसर मौजूद हैं.
 

कुंभ राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-आपकी पारिवारिक स्थिति अत्याधिक मजबूत होने जा रही है, घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है. आपके पारिवारिक स्टेटस में बढ़ोतरी होगी, साथ ही करियर में भी सफलता मिलने के आसार हैं. लेकिन आपको अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है.
 

मीन राशि पर मंगल के गोचर का प्रभाव-इस दौरान भाग्य का खूब साथ मिलेगा. ऑफिस, घर, हर जगह प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी. धन संबंधी मामले में भी आपको सफलता प्राप्त होगी.

You May Also Like

English News