खाट पर ऐसे पड़े मिले के लड़का-लड़की,फट गईं लोगों की आंखें

झाबुआ के उमरिया में रविवार को एक खेत में खटिया पर प्रेमी जोड़े के शव मिलने से सनसनी फैल गई। दोनों मृतक एक ही क्लास में पढ़ते थे। शव के पास कीटनाशक की खाली डिब्बी मिली है। पुलिस को शक है कि परिवार के डर से दोनों ने यह कदम उठाया है।  राणापुर टीआई आरसी भास्करे ने बताया कि मृतक उमरिया दरबार निवासी रमा पिता सकरिया डामोर (16) व महेश पिता नाथु भाबोर (18) वगई हैं। दोनों वगई के हाईस्कूल में 10वीं क्लास में थे। रविवार को रमा और महेश के शव एक खेत में मिले।खाट पर ऐसे पड़े मिले के लड़का-लड़की,फट गईं लोगों की आंखें

यहाँ लड़कियां ढ़ूंढ रही हैं सेक्स पार्टनर, पार्टनर्स की हो गई किल्लत

दोनों एक खाट पर मृत पड़े थे। जानकारी लगते ही खेत पर भारी भीड़ जमा हो गई। ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने बताया कि रमा और महेश एक-दूसरे को पसंद करते थे और शादी करना चाहते थे। पुलिस के मुताबिक रमा की मां और महेश का गोत्र एक होने से इन दोनों की शादी नहीं हो सकती थी। दोनों ये बात जानते थे। उन्हें ये पता था कि उनके परिजन उनकी शादी के लिए कभी राजी नहीं होंगे। आशंका है कि इसी के चलते उन्होंने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने पीएम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिए।

रमा शनिवार शाम से लापता थी। परिजनों ने उसे खोजते हुए रिश्तेदारों से भी संपर्क किया था। रमा की मां बूचीबाई ने आरोप लगाया है कि उसकी बेटी की महेश के परिजनों ने हत्या की है। यदि उनके पास दहेज-दापा की रकम नहीं थी तो मुझसे कहते। मैं दापा नहीं लेती। मेरी पढ़ी-लिखी लड़की को मार कर फेंक दिया। बूचीबाई के अनुसार यदि उनकी बेटी आत्महत्या करती तो शव इस तरह खटिया पर नहीं पड़े होते।आत्महत्या करने वाला तड़पता है, लेकिन ऐसा कोई सूबत नजर नहीं आ रहा। इससे साफ है कि उसे मारा गया है।
 

You May Also Like

English News