खुशखबरी: अगर आपके पास 500-1000 के पुराने नोट हैं तो ये पढ़ें

नई दिल्ली: अगर आपके पास पुराने नोट है तो जाइए बैंक कुछ पैसे लेकर आपकी परेशानी दूर कर देगा।खुशखबरी: अगर आपके पास 500-1000 के पुराने नोट हैं तो ये पढ़ें 

500 और 1000 के पुराने नोटों को बंद करने की घोषणा के बाद से देश भर में करोड़ों लोग भले ही अब भी अपने कुछ हजार रुपये निकालने के लिए बैंकों के आगे घंटों इंतजार कर रहे हों, वहीं कुछ लोगों को अपने करोड़ों को एक्सचेंज करने में चंद मिनट भी नहीं लग रहे। वहीं, नोटों की अदला-बदली कर रहे लोगों का दावा है कि कई सरकारी और प्राइवेट बैंकों की शाखाओं में कैशियर से लेकर मैनेजर तक इस रैकेट में शामिल हैं। चलन से बाहर किए गए करंसी नोटों की अवैध रूप से अदला-बदली धड़ल्ले से हो रही है। 
 
इस काम में लिप्त लोगों का कहना है कि देशभर में उनके एजेंट्स सक्रिय हैं जो पुराने नोटों के बदले नए नोटों का इंतजाम कुछ घंटों में कर सकते हैं। हालांकि इसमें वे तगड़ा कमिशन ले रहे हैं। इसमें शामिल होने का दावा करने वाले जितेन ने कहा, ‘अगर आपके पास एक करोड़ रुपये कैश हो तो हम एक घंटे में उसे एक्सचेंज कर सकते हैं, देश में कहीं भी। इसका कमिशन देना होगा।’ जितेन ने केवल अपना नाम बताया और कहा कि वह एक दिन में 5 करोड़ रुपये एक्सचेंज कर सकता है, लेकिन यह तभी होगा जब कोई ऐसा आदमी आपके बारे में हमें बताए, जो पहले हमसे यह काम करा चुका हो। अभी एक्सचेंज पर कमिशन 10 पर्सेंट है। यानी अगर कोई 500 और 1000 के अमान्य नोटों में एक करोड़ रुपये एक्सचेंज करे तो उसे 10 लाख रुपये का कमिशन चुकाना होगा। देश में जितेन जैसे कई लोग सक्रिय हैं और इनका दावा है कि नई करंसी सप्लाई करने में बैंकरों की भी भूमिका है। 
 वहीं, बैंक इन आरोपों से इनकार करते हुए कह रहे हैं कि उन्हें बेवजह टारगेट किया जा रहा है। इस धंधे में शामिल लोग बैंक के दावे पर हंस रहे हैं और उनका कहना है कि कई सरकारी और प्राइवेट बैंकों की शाखाओं में कैशियर से लेकर मैनेजर तक इस रैकेट में शामिल हैं। अवैध करंसी के एक्सचेंज में शामिल सम्राट ने कहा कि इस लंबी चेन में बैंककर्मी भी शामिल हैं। 
 
सम्राट ने कहा, ‘मामला केवल एक बैंक या एक ब्रांच या एक राज्य का नहीं है, जहां से हमें नई करंसी मिल रही है। अगर आपको लग रहा हो कि यह पैसा केवल प्राइवेट बैंकों से आ रहा है तो आप गलती कर रहे हैं।’ हालांकि, उसने यह नहीं बताया कि बैंकर इसके बदले में कितना कमिशन ले रहे हैं।

You May Also Like

English News