खौफ का दूसरा नाम था ये एक्टर, मिली थी ऐसी दर्दनाक मौत, जिससे सहम गया पूरा बॉलीवुड…

इस हीरो को पहचानते हैं आप ? फिल्मों में खौफ और दहशत का पर्याय बन चुके इस एक्टर ने अपने लिए एक ऐसी पहचान काबिज कर ली थी जिससे लोग असल जिंदगी में भी डरने लगे थे। ये एक्टर थे रामी रेड्डी जिन्होंने साल 1990 में आई फिल्म ‘प्रतिबंध’ में अन्ना नाम के विलेन का किरदार निभाया। खौफ का दूसरा नाम था ये एक्टर, मिली थी ऐसी दर्दनाक मौत, जिससे सहम गया पूरा बॉलीवुड...सितंबर में टीवी पर भिड़ेंगे शाहरुख-सलमान, अब देखना है TRP में कौन रहेगा सबसे आगे…??

इस किरदार में रामी रेड्डी ने ऐसी जान फूंकी कि ये हमेशा के लिए यादगार बन गया। इसके बाद रामी रेड्डी ने फिल्मों विलेन का किरदार निभाया। रामी रेड्डी का खौफ ऐसा हो गया था कि जब भी वो फिल्मी परदे पर आते तो लोगों के अंदर दहशत फैल जाती। 

हर फिल्म में उनका किरदार और लुक इतना भयानक और क्रूर होता था कि लोग देखते ही सकपका जाते थे, लेकिन किसे पता था कि फिल्मी परदे पर खौफ और डर का पर्याय बन चुके इस एक्टर की असल जिंदगी काफी दर्दनाक रही।

90 के दशक में फिल्मों में विलेन का किरदार निभाकर रामी रेड्डी सफलता की सीढ़ियां चढ़ रहे थे। काफी फिल्मों के ऑफर उनके पास थे, लेकिन जल्द ही वो वक्त आ गया जब बॉलीवुड ने इस हीरे को भुला दिया और फिर मजबूरी में रामी रेड्डी को साउथ फिल्मों को रुख करना पड़ा।

रामी रेड्डी ने करियर की शुरुआत तेलुगु फिल्मों से की थी, लेकिन जब बॉलीवुड से ऑफर मिला तो वो खुद को रोक नहीं पाए और बॉलीवुड में अपने कदम जमाने आ गए, लेकिन यहां मिली बेरुखी से आहत रामी रेड्डी फिर से साउथ फिल्मों की तरफ मुड़ गए। 

खैर, साउथ फिल्मों में रामी रेड्डी का सिक्का जमने लगा और फिर वो वहां के पॉपुलर विलेन में से एक बन गए। एक्टिंग के अलावा रामी रेड्डी ने डायरेक्शन और प्रोडक्शन में भी हाथ आजमाया लेकिन उसमें उन्हें कोई सफलता नहीं मिली…और फिर रामी की जिंदगी में सबसे भयानक मोड़ आया जब एक गंभीर बीमारी ने उन्हें अपनी चपेट में ले लिया। रामी को लीवर में दिक्कत हो गई थी जिसकी वजह से वो अक्सर बीमार रहने लगे।
रामी रेड्डी ने सभी से कन्नी काट ली और पब्लिक जगहों से भी उन्होंने दूरी बना ली। सालों बाद जब रामी एक इवेंट के दौरान सभी के सामने आए तो हर कोई चौंक गया। रामी काफी कमजोर और दुबले-पतले हो गए थे। कहा जाता है कि रामी को कैंसर हो गया था जिसकी वजह से उन्हें पहचानना मुश्किल हो गया था…सिर्फ हड्डियों को ढांचा-भर रह गए थे रामी रेड्डी…और फिर एक दिन रामी रेड्डी अपने परिवार को रोता-बिलखता छोड़ गए।
loading...

You May Also Like

English News