गणतंत्र दिवस समारोह: किले में तब्दील हुई दिल्ली, सभी बॉर्डर सील

गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इस अवसर पर राजधानी को किले में तब्दील कर दिया गया। बृहस्पतिवार को परेड समाप्ति तक दिल्ली के सभी बॉर्डर को भी सील कर दिया गया। सुरक्षा बलों ने बुधवार दोपहर को परेड के रास्ते में आने वाली सभी इमारतों को कब्जे में ले लिया है। 
गणतंत्र दिवस समारोह: किले में तब्दील हुई दिल्ली, सभी बॉर्डर सील

बता दें कि इस बार गणतंत्र दिवस के मौके पर मुख्य अतिथि अबू धाबी के शाहजादे प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायेद हैं। गणतंत्र दिवस पर आतंकी संगठनों से मिली धमकियों के बाद सुरक्षा एजेंसियां कोई भी खतरा मोल नहीं लेना चाहती हैं। इसी के मद्देनजर राजधानी में गणतंत्र दिवस समारोह की सुरक्षा के लिए 50 हजार से अधिक जवानों को तैनात किया गया है।

सुरक्षा कारणों से बुधवार दोपहर बाद ही गणतंत्र दिवस समारोह के आसपास पड़ने वाली इमारतों को खाली करा लिया गया। ज्यादातर दफ्तरों में काम करने वाले कर्मचारियों की भी छुट्टी कर दी गई। बृहस्पतिवार को परेड विजय चौक से शुरू होकर राजपथ, इंडिया गेट, तिलक मार्ग, बहादुर शाह जफर मार्ग और नेताजी सुभाष मार्ग से होती हुई लाल किला पहुंचेगी।

गणतंत्र दिवस समारोह के लिए राष्ट्रपति भवन से लाल किला के बीच एयरफोर्स, दिल्ली पुलिस, एनएसजी, एसपीजी के अलावा अर्द्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है। इसके अलावा ऊंची इमारतों पर शॉर्प शूटरों को भी तैनात किया गया है। हवाई हमले से बचाने के लिए इंडिया गेट के अलावा अन्य स्थानों पर रडार की भी तैनाती की गई है।

ऐसा रहेगा सुरक्षा का घेरा

– अबू धाबी के शहजादे शेख मोहम्मद बिन जायेद की सुरक्षा के लिए सलामी मंच के पास सात लेयर का सुरक्षा घेरा तैयार किया गया है, इसमें सुरक्षा एजेंसियों से लेकर, एसपीजी, एनएसजी, सेना, अर्द्धसैनिक बल, आईबी व दिल्ली पुलिस के जवान तैनात हैं।

भारत-यूएई को और करीब लाए मोदी और अल नाहयान

– सुरक्षा एजेंसियों ने राजधानी में करीब एक हजार सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। इन कैमरों से परेड स्थल के आसपास हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है

इस पर भी डालें नजर

– राजधानी की मुख्य हाईराइज बिल्डिंग पर शॉर्प शूटरों को तैनात किया गया है, वहीं परेड स्थल के रूट पर आने वाली बिल्डिंगों पर भी सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है।– राजधानी को हवाई हमले से बचाने के लिए सुरक्षा एजेंसियों ने रडार भी लगाए हैं। किसी भी हवाई हमले को भांपकर उसको रोकने में रडार मदद करेगा।

– परेड के समय सुबह 9.50 से 12.30 बजे तक दिल्ली के आसपास हैलीकॉप्टर से नजर रखी जाएगी।

– भूमिगत मेट्रो स्टेशन व राजपथ के आसपास मौजूद कार्यालयों को अपने संरक्षण में ले लिया गया है।

यह मेट्रो बंद रहेंगे

गणतंत्र दिवस के मौके पर अगर आप दिन में घर से निकलने का प्लान बना रहे हैं, तो यातायात पुलिस द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों को देखकर ही निकलें। ट्रैफिक पुलिस के मुताबिक, गणतंत्र दिवस के दिन कौटिल्या मार्ग, केएल मार्ग, क्यू प्वाइंट हनुमान रोड, एसबी मार्ग, मथुरा रोड, भगवान दास रोड, फिरोजशाह रोड गोल चक्कर, विंडसर प्लेस गोल चक्कर, अशोका रोड, बाबा खड़क सिंह मार्ग, मदर क्रेसेंट मार्ग व सरदार पेटल मार्ग पर आने पर पूरी तरह पाबंदी रहेगी। केवल लेबल लगे वाहन ही इस जगहों पर आ-जा सकेंगे।
स्थानीय लोगों को भी पहचान पत्र के साथ आने-जाने की अनुमति होगी। इसके अलावा टी पाइंट साउथ एवेन्यू/त्यागराज मार्ग, कामराज मार्ग, सुनहरी मस्जिद मौलाना आजाद रोड, मान सिंह रोड गोल चक्कर, मान सिंह रोड से सी-हैक्सागॉन तक अकबर रोड, जसवंत सिंह रोड गोल चक्कर तक अशोक रोड, डॉ. राजेन्द्र प्रसाद रोड, रेडक्रॉस रोड, संसद मार्ग, इम्तियाज खान रोड, रकाबगंज रोड, पंडित पंत मार्ग, टी पाइंट चर्च रोड/नॉर्थ एवेन्यू तक चर्च रोड पर भी पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा।बसें होंगी डायवर्ट, मेट्रो सेवा भी प्रभावित

राजपथ पर गणतंत्र दिवस की परेड के चलते राजधानी की परिवहन व्यवस्थाएं प्रभावित रहेंगी। जगह-जगह से सड़कें बंद रहने के साथ यातायात प्रभावित होगा। डीटीसी बसों को कई प्वाइंट से डायवर्ट कर दिया जाएगा या फिर उस बस की सेवा वहीं खत्म कर दी जाएगी। मेट्रो की तीन लाइनें इसके चलते प्रभावित रहेंगी। येलो लाइन पर चार स्टेशन अलग-अलग समय पर बंद रहेंगे, तो ब्लू लाइन पर परेड के चलते प्रगति मैदान से मंडी हाउस के बीच मेट्रो की आवाजाही बंद रहेगी।
 

मेट्रो की सभी पार्किंग बंद रहेंगी

डीएमआरसी के मुताबिक, मेट्रो की दिल्ली-एनसीआर की सभी पार्किंग बुधवार सुबह 6 बजे से 26 जनवरी को दोपहर दो बजे तक बंद रहेंगी। 26 जनवरी को येलो लाइन पर केंद्रीय सचिवालय और उद्योग भवन मेट्रो स्टेशन सुबह छह बजे से दोपहर 12 बजे तक बंद रहेंगे। इसी लाइन पर पटेल चौक और लोक कल्याण मार्ग स्टेशन सुबह 8:45 से दोपहर 12 बजे तक बंद रहेंगे।
इसी तरह मेट्रो की लाइन-तीन यानी ब्लू लाइन पर दो स्टेशन मंडी हाउस और प्रगति मैदान के बीच मेट्रो की सेवाएं तब रोकी जाएंगी, जब तक परेड तिलक मार्ग से गुजर रही होगी। हालांकि इस दौरान ब्लू लाइन पर नोएडा से इंद्रप्रस्थ स्टेशन, वैशाली से यमुना बैंक तक और द्वारका सेक्टर-21 से बाराखंभा के बीच सेवाएं चालू रहेंगी।डायवर्जन दोपहर बाद 4 बजे तक लागू

डीटीसी ने अपनी सभी सिटी और इंटर स्टेट रूटों को कुल 14 प्वाइंट से डायवर्ट किया है। यह सभी डायवर्जन दोपहर बाद 4 बजे तक लागू रहेंगे। उसके बाद सभी सेवाएं सामान्य रहेंगी। इंटर स्टेट बसों में गाजियाबाद से आने वाली बसें वजीराबाद रोड और रिंग रोड से होकर आएंगी। शंकर रोड से आने वाली बसों को उद्यान मार्ग, मंदिर मार्ग और पंचकुइयां रोड पर डायवर्ट की जाएंगी। रूट नंबर-604, 680 व 620 को शांति पथ और पंचशील मार्ग से डायवर्ट किया जाएगा।रूट नंबर-610, 781 को विनय मार्ग, सम्राट होटल से डायवर्ट होगी। रूट नंबर-433, 460, 505, 520, 615, 502 को अरविंदो मार्ग, लोधी रोड सफदरजंग टी प्वाइंट से डायवर्ट होगी। इसी तरह भीष्म पितामह, लोधी कॉलोनी से आकर इंडिया गेट, जनपथ वाली बसें लोधी कॉलोनी 18 ब्लॉक, भीष्म पितामह मार्ग से डायवर्ट होगी। इससे यह बसें 47ए, 522, 522ए, 440, 375, 623, 623ए की सेवाएं प्रभावित होंगी। इसके अलावा मथुरा रोड, भैरो रोड, रिंग रोड, आश्रम चौक, लक्ष्मी नगर टी प्वाइंट से बसें डायवर्ट होंगी।

पूर्वी दिल्ली नॉर्थ दिल्ली शामनाथ मार्ग से आने वाली बसों को आईएसबीटी से डायवर्ट किया जाएगा। इससे रूट नंबर-101, 103, 105, 112, 171, 172, 185, 227ए, 227बी, 258ए और 901 प्रभावित होंगी। धौला कुआं प्वाइंट पुलिस पोस्ट से रूट नंबर 716, 722, 770ए, 740, आरएल-75, आरएल-77, आरएल-77ए, आरएल-77बी, आरएल-77 एक्स., आरएल-79 समेत अन्य बसें प्रभावित होंगी।

You May Also Like

English News