गन्ने के रस के 5 फायदे : एसिडिटी और पीलिया में दे राहत, इम्यून सिस्टम करे बूस्ट

गर्मियों के मौसम में हर सड़क पर आपको ताज़ा और ठंडा गन्ने का रस (Sugarcane Juice) मिल जाएगा. यह जूस ना सिर्फ शरीर से गर्मी को दूर करता है बल्कि इस मौसम होने वाली कई परेशानियों में भी राहत देता है. इसीलिए इस जूस का सेवन रोजाना करें, लेकिन चिलचिलाती धूप में आने के बाद थोड़ी देर रुककर इसे पिएं. बिना बर्फ के यह जूस ज्यादा फायदेमंद होता है, क्योंकि बर्फ वाला गन्ने का रस कई लोगों के लिए सर्दी खांसी की वजह बन सकता है. यहां जानें इस रस के फायदों के बारे में. गन्ने के रस के 5 फायदे : एसिडिटी और पीलिया में दे राहत, इम्यून सिस्टम करे बूस्ट1. थकान करे कम
गन्ने में अच्छी मात्रा में काइब्रोहाइड्रेट्स, प्रोटीन, आयरन, पोटेशियम और एनर्जी ड्रिंक में मिलने वाली सभी जरूरी न्यूट्रिएंट्स होते हैं. इसी वजह से एक ग्लास गन्ने का रस आपने शरीर को एनर्जी से भर थकान खत्म कर देता है. 

सदियों से पीलिया से पीड़ित मरीजों को गन्ने का रस दिया जाता है. क्योंकि इसका जूस पीलिया के कारण लिवर को प्रभावित करने वाला बिलीरुबिन नामक तत्व (लिवर में पाए जाने वाला भूरे-पीले रंग का द्रव्य, जो लाल रक्त कोशिकाओं के टूटने पर बनता है) को कम करता है, जिससे लिवर धीरे-धीरे मजबूत बनता है.  

3. एसिडिटी से दिलाए राहत
जो लोग पेट में बार-बार होने वाली एसिडिटी से परेशान हों, वो इसका सेवन करें. साथ ही यह पेट में जलन में भी राहत देता है.

4.  बुखार करे ठीक
बच्चे हो या बड़े, बुखार से गर्म शरीर का तापमान कम करने में गन्ने का रस बड़ा फायदेमंद है, खासकर बच्चों को. यह रस शरीर में प्रोटीन की हानि को कम करता है, जिससे बुखार में आराम मिलता है. 

5. इम्यून सिस्टम करे बूस्ट
जल्दी बीमार पड़ना, हर वक्त थकान रहना, जरा-सी मेहनत करने से सांस फूलना और शरीर में दर्द रहने जैसी अगर दिक्कतें हो तो गन्ने का रस जरूर पिएं. यह सारे लक्षण कमजोर इम्यून सिस्टम के हैं, जिसे गन्ने का रस बूस्ट कर सकता है. 

You May Also Like

English News