गया गैंग रेप: पुलिस हिरासत में छह साल का बच्‍चा! जानिए मामला

कोंच थाना क्षेत्र के सोनडीहा में मां-बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात के अनुसंधान के क्रम में पुलिस कार्रवाई लगातार जारी है। लेकिन, कार्रवाई के नाम पर पुलिस बच्चों, वृद्धों व महिलाओं को भी हिरासत में लेकर परेशान कर रही है। इनमें छह साल का एक बच्‍चा तथा 70 साल की महिला भी शामिल है। हालांकि, ग्रामीणों के इस आरोप की पुलिस ने पुष्टि नहीं की है।

छापेमारी में निर्दोष लोगों को पकड़ने का आरोप

जानकारी के अनुसार बीती रात सीआरपीएफ, एसएसबी और पुलिस की संयुक्त टीम ने सात घंटे छापेमारी कर ढाई दर्जन लोगों को हिरासत में लिया। कमलदह गांव निवासी भाजपा अनुसूचित प्रकोष्ठ के प्रखंड अध्यक्ष रौशन कुमार ने बताया कि रात में सीआरपीएफ, एसएसबी व पुलिस के जवानों ने पूरे गांव को घेर लिया। कई घरों में छापेमारी की गई। पुलिस ने ढाई दर्जन से अधिक ग्रामीणों को पकड़ा। ग्रामीणों की मानें तो विरोध करने पर उनके साथ मारपीट की गई। पकड़े गए लोगों में छह वर्ष के बच्चे व 70 वर्ष की वृद्धा भी शामिल हैं।

हिरासत में लिए गए कुछ लोगों को कोंच और कुछ को टिकारी थाने ले जाया गया।

परैया थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार ने कहा कि अधिकारियों के निर्देश पर छापेमारी की गई है। कितने लोगों को पकड़ा गया है, यह संख्या नहीं बताई जा सकती। कुछ लोगों को पूछताछ के लिए टीम अपने साथ ले गई है।

ग्रामीणों के मुताबिक पुलिस ने कुछ घरों से दोपहिया वाहन भी जब्त किए हैं। जब्त वाहनों में दो को परैया थाने में रखे जाने की सूचना है।

घटनास्‍थल से मिले अहम सुराग

इधर, पटना से आई एफएसएल की तीन सदस्यीय टीम सोनडीहा गांव के समीप खेत-खलिहान में टोह ले रही है। सूत्रों के अनुसार टीम को वहां से महत्वपूर्ण साक्ष्य मिले हैं। घटनास्थल से कपड़े का टुकड़ा, हस्तलिखित कागजात, खून से सनी मिट्टी आदि मिली है। इन साक्ष्यों को जांच के लिए पटना भेजा जा रहा है। साक्ष्यों से सामूहिक दुष्कर्म के संकेत मिल रहे हैं। घटनास्थल से एक डायरी भी पुलिस को मिली है। उस डायरी में कुछ मोबाइल नंबर, नाम व पता भी लिखा है, इसकी पड़ताल की जा रही है।

यह है मामला

गया के गुरारू-अहियापुर स्टेट हाईवे 69 से जुडऩे वाली कोंच थाना क्षेत्र के सोनडीहा गांव के बधार के समीप बुधवार की रात करीब नौ बजे एक महिला व उसकी बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना हुई। महिला अपने पति व बेटी के साथ गुरारू से बाइक से  गांव जा रही थी कि पहले से घात लगाए करीब एक दर्जन दरिंदों ने बाइक रोककर पहले लूटपाट की, फिर महिला के पति के हाथ-पैर बांध घटना को अंजाम दिया।

पुलिस पर अनुसंधान का दबाव

दरअसल, सामूहिक दुष्कर्म की इस घटना की जांच को लेकर पुलिस पर भारी दबाव है। पुलिस सूत्रों के अनुसार अब तक की पुलिस कार्रवाई, संग्रहित साक्ष्य, एफआइआर सहित अन्य दस्तावेज को सोमवार को कोर्ट में प्रस्तुत किया जा सकता है। स्‍थानीय लोगों ने बताया कि वे भी इस मामले में पुलिस के साथ हैं। लेकिन, अनुसंधान के नाम पर ज्‍यादती को कहीं से भी जायज नहीं ठहराया जा सकता।

You May Also Like

English News