गर्दन की चोट से उबर रहे विराट ने शुरू की प्रैक्टिस

गर्दन की चोट से उबरने में लगे विराट कोहली ने नेट्स पर प्रैक्टिस शुरू कर दी है। बुधवार को विराट ब्रांदा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में नेट्स पर पसीना बहाते नजर आए।गर्दन की चोट से उबरने में लगे विराट कोहली ने नेट्स पर प्रैक्टिस शुरू कर दी है। बुधवार को विराट ब्रांदा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में नेट्स पर पसीना बहाते नजर आए।  कोहली को आईपीएल 2018 में गर्दन में स्प्रेन हो गया था। इसी चोट की वजह से कोहली सरे की तरफ से काउंटी क्रिकेट खेलने नहीं जा सके। कोहली ने असिस्टेंट कोच संजय बांगर के साथ कई घंटों तक इंडोर नेट्स पर पसीना बहाया। आने वाले हफ्ते भर तक कोहली ऐसे ही हल्का-फुल्का अभ्यास करेंगे।  कोहली के पास वक्त कम है, क्योंकि भारतीय टीम को आयरलैंड और इंग्लैंड दौरे के लिए जाना है। भारतीय टीम आयरलैंड के खिलाफ दो T20Is मुकाबले खेलेगी। ये दोनों मैच 27 और 29 जून को होंगे। इसके बाद भारती टीम इंग्लैंड पहुंचेगी। जहां जुलाई में मेजबान टीम के साथ पहले तीन T20Is और तीन वनडे मुकाबले होंगे।  इससे पहले विराट कोहली 15 जून को बैंगलुरू की नेशनल क्रिकेट एकेडमी में फिटनेस टेस्ट से गुजरेंगे। हालांकि ऐसी जानकारी सामने आ रही है कि कोहली बाकी टीम के साथ 23 जून को आयरलैंड की फ्लाइट पकड़ेंगे।  अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के हवाले से ऐसी जानकारी सामने आ रही है कि, शुरुआत में कोहली इंडोर नेट्स से प्रैक्टिस शुरू करेंगे। कुछ दिनों बाद वो मैदान पर अभ्यास शुरू कर देंगे। जून के पहले दो हफ्ते में वो ऐसा करेंगे। इसके बाद 15 जून को वो फिटनेस टेस्ट देंगे।  उनके काउंटी क्रिकेट खेलने को लेकर काफी हलचल मची थी, मगर ऐन वक्त पर कोहली को सरे के साथ अपना करार छोटा करना पड़ा, ताकि वो अपनी गर्दन की चोट से उबर सकें और इस साल इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज में खेल सकें।  इससे पहले विराट ने रिहैब को लेकर अपने ट्वीटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया था इस वीडियो में उन्होंने कहा था कि, "काफी मेहनत कर रहा हूं, रिहैब शुरू हो चुका है, फिट होने के लिए जिसकी इजाजत है, वो कर रहा हूं। कड़ी मेहनत का कोई विकल्प नहीं।"  2014 के इंग्लैंड दौरे पर विराट का प्रदर्शन काफी खराब रहा था। उस दौरे पर विराट पांच टेस्ट में सिर्फ 134 रन ही बना सके थे। उनका औसत भी 13 के आसपास था। ऐसे में उस नाकामी के दाग को धोने के लिए ही विराट ने इस बार इंग्लैंड दौरे से पहले काउंटी क्रिकेट खेलने का फैसला किया था

कोहली को आईपीएल 2018 में गर्दन में स्प्रेन हो गया था। इसी चोट की वजह से कोहली सरे की तरफ से काउंटी क्रिकेट खेलने नहीं जा सके। कोहली ने असिस्टेंट कोच संजय बांगर के साथ कई घंटों तक इंडोर नेट्स पर पसीना बहाया। आने वाले हफ्ते भर तक कोहली ऐसे ही हल्का-फुल्का अभ्यास करेंगे।

कोहली के पास वक्त कम है, क्योंकि भारतीय टीम को आयरलैंड और इंग्लैंड दौरे के लिए जाना है। भारतीय टीम आयरलैंड के खिलाफ दो T20Is मुकाबले खेलेगी। ये दोनों मैच 27 और 29 जून को होंगे। इसके बाद भारती टीम इंग्लैंड पहुंचेगी। जहां जुलाई में मेजबान टीम के साथ पहले तीन T20Is और तीन वनडे मुकाबले होंगे।

इससे पहले विराट कोहली 15 जून को बैंगलुरू की नेशनल क्रिकेट एकेडमी में फिटनेस टेस्ट से गुजरेंगे। हालांकि ऐसी जानकारी सामने आ रही है कि कोहली बाकी टीम के साथ 23 जून को आयरलैंड की फ्लाइट पकड़ेंगे।

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के हवाले से ऐसी जानकारी सामने आ रही है कि, शुरुआत में कोहली इंडोर नेट्स से प्रैक्टिस शुरू करेंगे। कुछ दिनों बाद वो मैदान पर अभ्यास शुरू कर देंगे। जून के पहले दो हफ्ते में वो ऐसा करेंगे। इसके बाद 15 जून को वो फिटनेस टेस्ट देंगे।

उनके काउंटी क्रिकेट खेलने को लेकर काफी हलचल मची थी, मगर ऐन वक्त पर कोहली को सरे के साथ अपना करार छोटा करना पड़ा, ताकि वो अपनी गर्दन की चोट से उबर सकें और इस साल इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज में खेल सकें।

इससे पहले विराट ने रिहैब को लेकर अपने ट्वीटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया था इस वीडियो में उन्होंने कहा था कि, “काफी मेहनत कर रहा हूं, रिहैब शुरू हो चुका है, फिट होने के लिए जिसकी इजाजत है, वो कर रहा हूं। कड़ी मेहनत का कोई विकल्प नहीं।”

2014 के इंग्लैंड दौरे पर विराट का प्रदर्शन काफी खराब रहा था। उस दौरे पर विराट पांच टेस्ट में सिर्फ 134 रन ही बना सके थे। उनका औसत भी 13 के आसपास था। ऐसे में उस नाकामी के दाग को धोने के लिए ही विराट ने इस बार इंग्लैंड दौरे से पहले काउंटी क्रिकेट खेलने का फैसला किया था

You May Also Like

English News