गांधी जी को कोई रिप्लेस नहीं कर सकता, नहीं टूटा कोई नियम

नई दिल्ली: PM नरेन्द्र मोदी की तस्वीर खादी ग्रामोद्योग पर छापने से खड़े हुए विवाद के बाद BJP के नेता संबित पात्रा ने कहा कि खादी ग्रामोद्योग की डायरी और कैलेंडर अनावश्यक विवाद खड़ा करने का प्रयास किया जा रहा है।

 गांधी जी को कोई रिप्लेस नहीं कर सकता, नहीं टूटा कोई नियम

देखें विडियो: जब लडकियों ने लड़को से मांगी ये फिल्म, जानकर हो जायेंगे हैरान ….

उन्होंने कहा कि आदरणीय महात्मा गांधी को कोई रिप्लेस नहीं कर सकता है और ना केवल और खादी ग्राम उद्योग के अभी तो भारतवर्ष के हम सब की आत्मा महात्मा गांधी हैं। उन्होंने कहा कि वहां पर सिर्फ गांधी जी की तस्वीर लगे ऐसा कोई नियम नहीं हैं, इसलिए किसी नियम का उल्लघंन नहीं हुआ हैं. गांधी जी खादी ग्रामोद्योग की आत्मा हैं उनके दर्शन के अनुसार ही वहां काम होता है।
 
संबित पात्रा बोले कि 1996, 2002, 2005, 2011, 2012 और 2013 में भी जो खादी ग्रामउद्योग का कैलेंडर रिलीज हुआ था उसमें भी गांधी जी की तस्वीर नहीं थी उस वक्त मैं ऐसा कोई विवाद खड़ा नहीं हुआ था लेकिन आज अचानक विवाद क्यों हो रहा है। उन्होंने कहा कि इसका मुख्य उद्देश्य खादी का प्रचार करना हैं। वह बोले कि यूपीए की 10 सालों की सरकार में खादी की बिक्री 2 से 7 % तक होती थी, वहीं अब यह बिक्री 35 % तक पहुंच गई है। क्या इसे देखकर गांधी जी खुश नहीं होंगे।
 
 
वहीं खादी ग्राम उद्योग के चेयरमैन ने भी कहा है कि ये तस्वीर 2016 के खादी ग्राम उद्योग में से ली गई है, जहां पर पीएम ने 500 महिलाओं को चरखे दिए थे। पात्रा बोले कि मोदी जी ने नारा दिया था कि खादी मतलब भारत और भारत मतलब खादी। पात्रा ने कहा कि एक पॉलिटिकल पार्टी ऐसी है जिन्होंने गांधी के नाम का इस्तेमाल कर शासन किया जब कि उनका गांधी से कोई लेना देना नहीं है वह गांधीजी के नाम का दुरुपयोग करते रहे हैं और उनके नाम का राजनीतिकरण किया है हमने तो गांधी जी के दर्शन को आगे बढ़ाया है।

You May Also Like

English News