गिलगित-बल्टिस्तान के जरिए भारत को नई टेंशन देने की तैयारी में पाक

पाकिस्तान भारत के साथ एक और पंगा लेने की तैयारी कर रहा है. पाक पीओके यानी पाक अधिकृत कश्मीर के विवादित इलाके गिलगित-बल्टिस्तान क्षेत्र को अपना पांचवां प्रांत घोषित करने की योजना बना रहा है. पाक के इस कदम से भारत की चिंता बढ़ सकती है. इसकी वजह है क्योंकि ये क्षेत्र की सीमा पाक के कब्जे वाले कश्मीर से लगती है।गिलगित-बल्टिस्तान के जरिए भारत को नई टेंशन देने की तैयारी में पाक

पाक के इंटर स्टेट कोआॅर्डिनेशन मंत्री रियाज हुसैन पीरजादा ने वहां के निजी टीवी चैनल जियो को बताया कि विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज की अध्यक्षता वाली समिति की सिफारिश पर यह फैसला किया गया है

क्या आप जानती हैं ! एक सधारण सी दवा बहुत कुछ कर सकती है

पीरजादा ने कहा, ‘समिति ने सिफारिश की थी कि गिलगित-बल्टिस्तान को पाकिस्तान का प्रांत बनाया जाना चाहिए.’ उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र को प्रांत बनाने के लिए संविधान संशोधन करना होगा.

जानिए क्यों चिंतित हो सकता भारत

गिलगित-बल्टिस्तान पाक-अधिकृत कश्मीर के भीतर एक स्वायत्तशासी क्षेत्र है. यह पाकिस्तान की महत्वपूर्ण राजनैतिक इकाई है. इसकी सीमायें पश्चिम में खैबर-पख़्तूनख्वा से, उत्तर में अफगानिस्तान के वाख़ान गलियारे से, उत्तरपूर्व में चीन के शिन्जियांग प्रान्त से, दक्षिण में पीओके और दक्षिणपूर्व में जम्मू व कश्मीर राज्य से लगती हैं’. गिलगित-बल्तिस्तान का कुल क्षेत्रफल 72,971 वर्ग किमी (28,174 मील²) और अनुमानित जनसंख्या लगभग दस लाख है.

You May Also Like

English News