गुजरात चुनाव को लेकर क्या कांग्रेस के सब्र का फल होगा मीठा?

शुक्रवार शाम चुनाव समिति की बैठक में कांग्रेस पार्टी ने लगभग 182 सीटों पर अपने उम्मीदवार तय कर दिए. इसके बावजूद भी पार्टी की लिस्ट जारी नहीं हुई. नेताओं का कहना है कि एनसीपी और शरद खेमे के जदयू के साथ गठबंधन की बात अभी चल रही है.गुजरात चुनाव को लेकर क्या कांग्रेस के सब्र का फल होगा मीठा?अभी-अभी: BJP को लगा बड़ा झटका, टिकट न मिलने से नाराज नेताओं ने दिए इस्तीफे

दरअसल कांग्रेस पार्टी के इस धैर्य के पीछे सोची समझी रणनीति है. कांग्रेस पार्टी चाहती है कि बीजेपी विरोधी सभी दल और पार्टियों से वो समन्वय बनाकर गुजरात की लड़ाई लड़े. यही वजह है कि भाजपा की पहली लिस्ट जारी होने के बावजूद भी कांग्रेस पार्टी अपनी गणित बैठाने में लगी है.

गुजरात कांग्रेस के इंचार्ज अशोक गहलोत ने दस जनपथ से बाहर निकलते हुए यह साफ कर दिया कि कांग्रेस पार्टी अभी गठबंधन के इंतजार में है. ‘करीब-करीब सभी सीटों पर डिस्कशन पूरा हो चुका है. क्योंकि जेडीयू और एनसीपी से बातचीत चल रही है इसलिए हम एक से दो दिन में लिस्ट जारी कर देंगे.’

उससे ज्यादा टाइम तो कांग्रेस के पास है भी नहीं क्योंकि पहले चरण के मतदान के लिए 21 तारीख तक नामांकन दाखिल करना है, ऐसे में कांग्रेस के उम्मीदवारों के पास ज्यादा समय नहीं बचता. 

जहां जदयू के शरद यादव खेमे से कांग्रेस पार्टी बातचीत कर उनके उम्मीदवारों को अपनी सूची में एडजस्ट करने की कोशिश कर रही है वहीं दूसरी ओर हाल ही में कांग्रेस के पाले में आए ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर का भी ख्याल रखना उनके एजेंडे पर है. शुक्रवार दोपहर अल्पेश ठाकोर ने अहमद पटेल से मुलाकात की. चर्चा जोरों पर है कि अल्पेश ने अपने लोगों के लिए लगभग 12 सीटें मांगी है. जिसमें गांधीनगर साउथ, वाव, देवदर, कांकरेज, सिद्धपुर और विरामगाम शामिल हैं.

वहीं हार्दिक पटेल ने अपने दूत दिल्ली भेजे हैं. उनकी मुलाकात भी अहमद पटेल से हुई पर वो कांग्रेस आलाकमान से मिले बगैर वापस चले गए. हार्दिक पटेल समेत पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति के तमाम नेता पहले से ही कांग्रेस से दिल मिलने की बात कह चुके हैं. ऐसे में अब मामला टिकट पर आकर रुक जाता है. PAAS ने कांग्रेस को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया है.

भले ही सरेआम वह सिर्फ पाटीदारों के हित का बिगुल बजाएं पर पर्दे के पीछे सब जानते हैं कि वह चुनाव की तैयारी में है. चर्चा जोरों पर है कि 8 सीटों पर पास ने अपने नेताओं को लड़ाने की बात रखी है. इसमें ललित वसोया, मनोज पनारा, निलेश कुमानी समेत कुछ नेताओं के नाम पर चर्चा हुई है. हालांकि PAAS के नेता इस बात को खारिज कर रहे हैं. अब पटीदारों को भी संतुष्ट करने का बीड़ा कांग्रेस के कंधों पर है. बताया जा रहा है कि दो दिन के भीतर कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची जारी करेगी.

You May Also Like

English News