गूगल ने एक्सिलीरेटर कार्यक्रम के तहत 6 भारतीय स्टार्टअप को गया चुना

नई दिल्ली। दुनिया की दिग्गज इंटरनेट कंपनी गूगल ने अपने गूगल एक्सिलीरेटर कार्यक्रम के चौथे वर्ग के लिए भारत की छह स्टार्टअप कंपनियों का चयन किया है। गूगल ने बुधवार को इसकी घोषणा की। गूगल के सैन फ्रांसिस्को स्थित गूगल डेवलपर्स लॉन्चपैड स्पेस से यह कार्यक्रम 17 जुलाई को शुरू होगा। इसके साथ ही गूगल के इस कार्यक्रम से अब तक भारत की 26 स्टार्टअप कंपनियां जुड़ चुकी हैं।गूगल ने एक्सिलीरेटर कार्यक्रम के तहत 6 भारतीय स्टार्टअप को गया चुनायह भी पढ़े:> वीडियो: जानिए किन्नर क्या होते है और कैसे करते है सेक्स

गूगल इंडिया के कार्यक्रम प्रबंधक पॉल रवींद्रनाथ जी. ने बुधवार को एक वक्तव्य जारी कर कहा, “इस वर्ष कार्यक्रम के लिए आवेदन करने वाली सैकड़ों कंपनियों में से इन स्टार्टअप कंपनियों का चयन किया गया। कंपनियों का चयन उनके अद्वितीय मूल्य प्रस्ताव और मशीन लर्निग तथा कृत्रिम बुद्धिमत्ता जैसी अत्याधुनिक प्रौद्योगिकीयों के आधार पर किया गया।”

इस कार्यक्रम के तहत दो सप्ताह का भुगतान-मुक्त मेंटरशिप बूटकैंप आयोजित किया जाएगा। चुनी गई कंपनियों को गूगल के नए कार्यक्रम का लाभ मिलेगा, जिससे उन्हें गूगल की नवीनतम प्रौद्योगिकीयों को इस्तेमाल कर मशीन लर्निग और कृत्रिम बुद्धिमत्ता के क्षेत्र में बेहतर अनुसंधान के जरिए अपने एप को विकसित करने का मौका मिलेगा।

छह महीने के इस कार्यक्रम के तहत इन कंपनियों को गूगल की दुनियाभर से आए 20 से अधिक विशेषज्ञों का दल मार्गदर्शन देगा।

इसके अलावा, इन स्टार्टअप कंपनियों को गूगल के उत्पादों का लाभ भी मिलेगा। सैन फ्रांसिस्कों में गूगल के कार्यक्रम में हिस्सा लेकर लौटने के बाद ये स्टार्टअप कंपनियां भारत में ही गूगल के सहयोग से काम करना शुरू करेंगी।

You May Also Like

English News