गृह मंत्रालय और एनएसए लगाएंगे आखिरी मुहर, इंटेलिजेंस ब्यूरो में शामिल होंगे SSB के 2000 जवान

सशस्त्र सीमा बल के लगभग 2000 कर्मियों को इंटेलिजेंस ब्यूरो में ट्रांसफर किया जाएगा। पूर्वी सीमा पर इंटेलिजेंस ब्यूरो की मौजूदगी को बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया जाएगा। बता दें कि भारत पूर्वी सीमा पर रोड और अन्य मिलिटरी इन्फ्रास्ट्रक्चर बना रहा है। गृह मंत्रालय और एनएसए लगाएंगे आखिरी मुहर, इंटेलिजेंस ब्यूरो में शामिल होंगे SSB के 2000 जवानBig Breaking: अभी-अभी इस शहर में आया भीषण भूकम्प, देखिए तस्वीरें!

अगले साल तक सशस्त्र सीमा बल के सिविलियन कैडर के 2,765 पोस्ट को आईबी कमांड के अंतर्गत शिफ्ट किया जाएगा। पीटीआई की खबर के मुताबिक एक अधिकारी ने बताया कि एसएसबी की सिविल विंग के कर्मियों को आईबी को ट्रांसफर किया जाएगा। 

अधिकारी ने बताया कि मैनपावर और इन्फ्रास्ट्रक्चर के ट्रांसफर के लिए 300 पन्नों का प्रपोजल तैयार किया गया है। प्रपोजल को एसएसबी हेडक्वार्टर में तैयार किया गया है, जिस पर गृह मंत्रालय और एनएसए आखिरी मुहर लगाएंगे।

अधिकारी ने बताया कि इस कैडर के कर्मियों की औसत उम्र 50 साल है और उन्होंने नेपाल व भूटान सीमा पर रहने वाले लोगों के साथ लंंबे समय तक काम किया है। इन कर्मियों ने न केवल सीमा पर रहने वाले लोगों को मुख्यधारा के साथ जोड़ने का काम किया है, बल्कि सीमा पर एसएसबी के लिए आंख और कान का भी काम किया है। 

loading...

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English News