गेम ऑफर थ्रोन्स लीक: भारत से चार गिरफ्तार, जांच जारी

दुनिया के सबसे पॉपुलर सीरीज में से एक गेम ऑफ थ्रोन्स का 7वां सीजन काफी चर्चा में है. एचबीओ की यह सीरीज है जिसका 7वां सीजन चल रहा है. इस बार चर्चा में होने की वजह हैकिंग है, क्योंकि हैकर्स ने हाल ही में एचबीओ के सर्वर को हैक करके स्क्रिप्ट लीक कर दी. इतना ही नहीं हकर्स ने पैसे भी मांगे और ऐसा न करने पर सारे ऐपिसोड लीक करने की धमकी भी दी. 

गेम ऑफर थ्रोन्स लीक: भारत से चार गिरफ्तार, जांच जारी

7वें सीजन का चौथा ऐपिसोड लीक हो गया और इसे भारत से ही किया गया. आपको बता दें कि हैकर्स ने इसे स्टार इंडिया ले लीक किया. इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है. 7वें सीजन का चौथे ऐपिसोड को ऑन एयर होने से पहले इंटरनेट पर लीक कर दिया गया. इनमें से तीन प्राइम फोकस टेक्नॉलॉजी के कर्मचारी बताए जा रहे हैं जबकि चौथा इसकी कंपनी का पुराना कर्मचारी है.

गेम ऑफ थ्रोन्स का पायरेसी से पुराना नाता है और यह दुनिया की सबसे पायरेट की जाने वाली सीरीज है. लेकिन फिर भी इसकी लोकप्रियता और कमाई में कोई असर नहीं पड़ा है. गौरतलब है कि प्राइम फोकस मुंबई की एक कंपनी है जो भारतीय स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म हॉटस्टार के लिए सीरीज को स्टोर और मैनेज करती है. 

इससे पहले हैकर ग्रुप्स ने एचबीओ के सर्वर से लगभग 1.5TB डेटा चोरी करने का दावा किया था. इस डेटा में इस सीरीज के कैरेक्टर्स के कॉन्टैक्ट डीटेल्स, सीरीज का स्क्रिप्ट और दूसरी अहम जानकारियां शामिल होने की खबरे हैं. हालांकि अब पांचवा ऐपिसोड ऑन एयर हो गाया है और सिर्फ दो ऐपिसोड्स ही बचे हैं. 

You May Also Like

English News