गेल का गरजा बल्ला: IPL में नहीं लग रही थी गेल की बोली…

क्रिकेट इतिहास में जब भी तूफानी बल्लेबाजों की गिनती की जाएगी तब बिना किसी शक के क्रिस गेल उस लिस्ट में अव्वल रहेंगे. बीती रात किंग्स इलेवन पंजाब की ओर से खेलते हुए गेल ने ये साबित कर दिया कि क्यों उन्हें दुनिया का सबसे विस्फोटक बल्लेबाज कहा जाता है. गेल के तूफान की बदौलत अश्विन की अगुवाई वाली पंजाब ने चेन्नई सुपर किंग्स को 4 रन हरा दिया.

इस सीजन में अपना पहला मैच खेल रहे गेल ने 33 गेंदों में ताबड़तोड़ 63 रन ठोक दिए. उन्होंने 190 के स्ट्राइक रेट से खेली गई अपनी पारी में 7 चौके और 4 छक्के लगाए. गेल ने मैच के छठे ओवर में 2 छक्के और 2 चौके लगाकर 22 रन जोड़े. इस तरह गेल की बदौलत किंग्स इलेवन पंजाब ने पावरप्ले में 75 रन बनाए थे.

मुश्किल से बिक पाए गेल

गेल ने सीजन का आगाज तो तूफानी पारी के साथ किया लेकिन उनका सफर आसान नहीं था. इस सीजन के लिए खिलाड़ियों की नीलामी के वक्त तो ऐसा लग रहा था कि गेल बिना बिके ही रह जाएंगे और इस साल IPL नहीं खेल सकेंगे. महज 2 करोड़ रुपये के बेस प्राइस वाले गेल को कोई खरीदार ही नहीं मिल रहा था. ये तब जब मनीष पांडेय और केएल राहुल जैसे उभरते सितारे 11-11 करोड़ रुपये में बिक चुके थे.

पहले दिन गेल बिना बिके ही रह गए लेकिन दूसरे दिन पंजाब टीम की मालकिन प्रीति जिंटा ने 39 साल के इस खिलाड़ी पर दांव खेला और बेस प्राइस में ही गेल को खरीदा गया. माना जा रहा था कि गेल को खरीदने के पीछे टीम के मेंटर वीरेंद्र सहवाग का हाथ था. सहवाग खुद भी तूफानी बल्लेबाज रहे हैं ऐसे में वही थे जिन्हें इस छोटे फॉर्मेट में गेल की काबिलियत का असल अंदाजा था. इस तरह गेल पंजाब की टीम का हिस्सा तो बने लेकिन 2 शुरुआती मैचों में वह अंतिम 11 में जगह नहीं बना पाए.

क्रिस गेल दुनिया के सबसे सफल टी-20 खिलाड़ी हैं और दुनिया की तमाम क्रिकेट लीग में खेलते हुए उनके नाम 11 हजार से ज्यादा रन दर्ज हैं. इस दौरान उनके बल्ले से 20 टी-20 शतक और 68 अर्धशतक भी आए हैं. क्रिस गेल ने RCB की ओर से खेलते हुए 20 ओवर के इस मैच में पुणे के खिलाफ नाबाद 175 रनों की पारी भी खेली थी.

मैच में ऐसे आया नतीजा

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने 20 ओवर में 7 विकेट गंवा कर 197 रन बनाए और चेन्नई सुपर किंग्स के सामने 198 रनों का लक्ष्य रखा. जवाब में चेन्नई सुपर किंग्स 20 ओवर में 193 रन ही बना पाई और पंजाब यह मैच 4 रन से जीतने में कामयाब रही. CSK की तरफ से कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 44 गेंदों में नाबाद 79 रन बनाए, लेकिन वह अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए.

You May Also Like

English News