गैंगस्टर की मौत के बाद अब ये शहर बन रहा अंडरवर्ल्ड का नया ठिकाना

गैंगस्टर संदीप गड़ौली उभर रही मॉडल दिव्या पाहुजा से जब पहली बार मिला तो उसने खुद का परिचय देते हुए बताया कि वो रियल स्टेट का काम करता है और शहर का जाना-माना बिजनेसमैन है। 

दिव्या को भी समझ में आ गया कि संदीप उसके लिए सफलता की सीढ़ी बन सकता है और जल्द ही दोनों का मिलना-जुलना शुरु हो गया। इसी साल फरवरी में हुए एनकाउंटर में संदीप की मौत के लिए उसकी गर्लफ्रेंड दिव्या पाहुजा को जिम्मेदार बताया जाता है। 
गैंगस्टर की मौत के बाद अब ये शहर बन रहा अंडरवर्ल्ड का नया ठिकाना 

कहा जाता है कि दिव्या ने ही पुलिस को संदीप की लोकेशन के बारे में जानकारी दी थी। हालांकि इस एनकाउंटर के बाद हरियाणा पुलिस भी शक के घेरे में आ गई थी। 
 

कहा ये जाता है कि संदीप के एनकाउंटर के पीछे मुख्य साजिशकर्ता बिंदर गुज्जर है। बिंदर गुड़गांव का बड़ा गैंगस्टर है और संदीप उसके रास्ते में रोड़ा बन रहा था।
 

सूत्रों की मानें तो संदीप का एनकाउंटर करने के लिए ही बिंदर ने पुलिस को पांच करोड़ खिलाए ताकि उसके बढ़ते प्रभाव को कम किया जा सके।
 

ये बात भले ही किसी बॉलीवुड फिल्म की तरह लगे ‌लेकिन असल जिंदगी में गुड़गांव जो अब गुरुग्राम बन चुका है के अंदर ठीक वैसा ही अंडरवर्ल्ड पनपता सा दिख रहा है जो कई दशकों पहले मुंबई में अपनी जड़ें जमा रहा था।
 

जबरन पैसा वसूली, सट्टेबाजी, नशे की तस्करी और जमीन पर कब्जे से लेकर उसकी खरीद-फरोख्त जैसे अवैध धंधे गुड़गांव में तेजी से पनपे हैं और इन पर कब्जा जमाने के लिए कई गैंग आपस में गैंगवार कर एक-दूसरे को अपनी ताकत का लोहा मनवाने में लगे हुए हैं।
 

अस्सी के दशक से लेकर अब तक गुड़गांव में छह गैंग लीडर मारे जा चुके हैं। इनमें सुरेंदर उर्फ फौजी, राजेश उर्फ राजे, नीतू गहलोत, सुनील मलिक, संदीप गड़ौली और महेश शामिल है।
 

कहा जाता है कि इन छह में से पांच को मरवाने वाला बिंदर गुज्जर है जो फिलहाल गुड़गांव का सबसे खतरनाक और तेजी से उभरता गैंगस्टर बन चुका है। कहा जाता है कि बिंदर ने ही गुड़गांव में गैंगवार की शुरुआत की। उसने ही सबसे पहले अपने प्रतिद्वंदी और खतरनाक गैंगस्टर सुरेंदर उर्फ फौजी को मरवाया था।
 

गुड़गांव में उभर रहे अंडरवर्ल्ड की नई दुनिया में शूटर्स का अहम रोल है। माना जाता है कि खुद बिंदर एक शातिर शार्पशूटर है जो शुरुआत में फौजी के लिए काम करता था। हालांकि अब ये गैंग अपने शिकार के खात्मे के लिए यूपी, भिवानी, जिंद, रोहतक और झज्जर जैसे इलाकों से शूटर बुलाते हैं और अपना काम करवाते हैं।
 
(साभार: अमर उजाला )
 

You May Also Like

English News