गोपाल शर्मा, ज्ञानेंद्र पाण्डेय, रीता डे व नीतू डेविड यूपीसीए की क्रिकेट कमेटी में शामिल

उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन सीनियर क्रिकेट में टीम के खराब प्रदर्शन को लेकर गंभीर हो गई है। यूपीसीए ने आज यहां पर कार्यसमिति की बैठक में क्रिकेट कमेटी का गठन किया है। इसमें पूर्व टेस्ट क्रिकेटर गोपाल शर्मा व पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर ज्ञानेंद्र पाण्डेय को के साथ महिला वर्ग में पूर्व टेस्ट क्रिकेटर रीता डे तथा नीतू डेविड को रखा गया है। इसके साथ ही रणजी ट्राफी तथा अन्य सभी बोर्ड ट्राफी में खेलने वाली टीमों के कोच व मैनेजर के नाम की घोषणा की गई है।उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन सीनियर क्रिकेट में टीम के खराब प्रदर्शन को लेकर गंभीर हो गई है। यूपीसीए ने आज यहां पर कार्यसमिति की बैठक में क्रिकेट कमेटी का गठन किया है। इसमें पूर्व टेस्ट क्रिकेटर गोपाल शर्मा व पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर ज्ञानेंद्र पाण्डेय को के साथ महिला वर्ग में पूर्व टेस्ट क्रिकेटर रीता डे तथा नीतू डेविड को रखा गया है। इसके साथ ही रणजी ट्राफी तथा अन्य सभी बोर्ड ट्राफी में खेलने वाली टीमों के कोच व मैनेजर के नाम की घोषणा की गई है।   उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन की कार्य समिति की बैठक आज यहां के होटल में करीब चार घंटा तक चली। आइपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ल के साथ यूपीसीए के कार्यवाहक सचिव युद्धवीर सिंह, झांसी से एमएम मिश्र, इलाहाबाद से ताहिर हसन, लखनऊ से शोएब अहमद व फतेहपुर के रियासत अली शामिल थे।  बैठक में उत्तर प्रदेश क्रिकेट के हर वर्ग में सुधार पर चर्चा की गई। इसके बाद पहली बार यूपीसीए में क्रिकेट कमेटी का गठन किया गया। गोपाल शर्मा के साथ बीसीसीआई की जूनियर चयन समिति के सदस्य ज्ञानेंद्र पाण्डेय के पास पुरुष तथा रीता डे व नीतू डेविड के पास महिला वर्ग की क्रिकेट को परखने का जिम्मा है। यूपीसीए के सारे फैसले चार सदस्यीय की कमेटी ही लेगी और प्रदेश में क्रिकेट का संचालन अब इनके ही जिम्मे रहेगा। चयन समिति में बदलाव वार्षिक आम सभा की बैठक में होगा।   मुजफ्फरनगर में उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन की कार्य समिति की बैठक आज यह भी पढ़ें   उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन ने रणजी टीम का कोच मंसूर अली को बनाया है। मंसूर अली कर्नाटक से हैं। इनसे पहले कर्नाटक के सुजीत सोमसुंदर टीम के कोच थे। टीम में उत्तर प्रदेश परविंदर सिंह बैटिंग कोच रहेंगे। सहारनपुर के संजीव जखमोला मैनेजर तथा लक्ष्मीनारायण को वीडियो एनॉलिस्ट बनाया गया है।

उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन की कार्य समिति की बैठक आज यहां के होटल में करीब चार घंटा तक चली। आइपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ल के साथ यूपीसीए के कार्यवाहक सचिव युद्धवीर सिंह, झांसी से एमएम मिश्र, इलाहाबाद से ताहिर हसन, लखनऊ से शोएब अहमद व फतेहपुर के रियासत अली शामिल थे।

बैठक में उत्तर प्रदेश क्रिकेट के हर वर्ग में सुधार पर चर्चा की गई। इसके बाद पहली बार यूपीसीए में क्रिकेट कमेटी का गठन किया गया। गोपाल शर्मा के साथ बीसीसीआई की जूनियर चयन समिति के सदस्य ज्ञानेंद्र पाण्डेय के पास पुरुष तथा रीता डे व नीतू डेविड के पास महिला वर्ग की क्रिकेट को परखने का जिम्मा है। यूपीसीए के सारे फैसले चार सदस्यीय की कमेटी ही लेगी और प्रदेश में क्रिकेट का संचालन अब इनके ही जिम्मे रहेगा। चयन समिति में बदलाव वार्षिक आम सभा की बैठक में होगा।

उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन ने रणजी टीम का कोच मंसूर अली को बनाया है। मंसूर अली कर्नाटक से हैं। इनसे पहले कर्नाटक के सुजीत सोमसुंदर टीम के कोच थे। टीम में उत्तर प्रदेश परविंदर सिंह बैटिंग कोच रहेंगे। सहारनपुर के संजीव जखमोला मैनेजर तथा लक्ष्मीनारायण को वीडियो एनॉलिस्ट बनाया गया है।

You May Also Like

English News