गोपीचंद: मेरी आँखों के तारे हैं साइना-सिंधु…

भारतीय टीम के बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद ने अपने दोनों शिष्याओं साइना नेहवाल और पी वी सिंधु को अपने दो अनमोल रतन बताते हुए कहा है कि मैं इन दोनों पर बहुत विश्वास करता हूँ , ये दोनों मेरी आँखों के तारे हैं और मुझे पूरी उम्मीद है कि 2020 के टोक्यो ओलम्पिक में ये दोनों खिलाडी अपने प्रदर्शन से सबको चौंका देंगी. राष्ट्रीय कोच से यह पूछने पर कि वह इन दो चैंपियन खिलाड़ियों से कैसा व्यवहार करते है, गोपी ने कहा कि यह वाकई काफी मुश्किल है। मैं इन दोनों चैंपियन को अनमोल हीरे की तरह सहेज कर रखता हूं, मैं अपने करियर में ओलम्पिक पदक नहीं जीत पाया था लेकिन मुझे खुशी है इन दोनों ने मेरा यह सपना पूरा कर दिया.

उन्होंने आगे कहा कि सिर्फ सिंधु और साइना से ही नहीं, मैं अपने सभी खिलाड़ियों से पदक की उम्मीद करता हूँ, लेकिन सिंधु और साइना भारत के स्टार खिलाड़ी हैं, इसीलिए में उम्मीद करता हूँ की वे भारत के लिए स्वर्ण पदक लाएं. उल्लेखनीय है कि साइना ने 2012 के लंदन में कांस्य और सिंधू ने 2016 के रियो ओलम्पिक में रजत पदक जीता था, दोनों के मुकाबले में भिड़ने और एक के जीतने तथा दूसरे के हारने की स्थिति के बारे में पूछे जाने पर गोपी ने कहा कि मेरे लिए यह कोई नई  बात नहीं है.

ऐसा मेरी अकादमी में रोजाना ही होता है जब दोनों आपस में अभ्यास करती हैं, उन्होंने कहा कि दोनों मेरी शिष्य हैं और मैं सिर्फ यही चाहता हूं कि कोई हारे या जीते लेकिन दोनों अपने खेल में सुधार करती रहे और अपने खेल को नये स्तर पर ले जाएं, मेरे लिए सबसे बड़ी बात यही होगी कि वे दुनिया की अन्य खिलाड़ियों को हराएं. 

You May Also Like

English News