ग्रीन कॉरिडोर बनाकर चंडीगढ़ से दिल्ली लाकर लीवर ट्रांसप्लांट

एम्स अस्पताल में 21 वर्षीय एक मरीज में सफलतापूर्वक लीवर ट्रांसप्लांट किया गया. यह ट्रांसप्लांट चंडीगढ़ के एक व्यक्ति द्वारा दिए गए लीवर के बाद किया गया. ऐसा यहां सबसे व्यस्त मानी जाने वाली कुछ सड़कों में से एक पर राष्ट्रीय राजधानी में ग्रीन कोरिडोर बनाने के कारण हुआ. एम्स के सूत्रों ने बताया कि यह लीवर चंडीगढ़ पीजीआई के 55 वर्षीय एक व्यक्ति से मिला. इसे एम्स में भर्ती एक मरीज को ट्रांसप्लांट किया गया.

ग्रीन कॉरिडोर बनाकर चंडीगढ़ से दिल्ली लाकर लीवर ट्रांसप्लांट

बता दें कि एक प्राइवेट विमान सुबह नौ बज कर 45 मिनट पर चंडीगढ़ से रवाना हुआ. करीब 11 बजे यहां आईजीआई हवाई अड्डे पर उतरा. यातायात दक्षिणी रेंज डीसीपी विजय सिंह के मुताबिक, एम्स के लिए लीवर लेकर वाहन सुबह 11 बजकर 17 मिनट पर रवाना हुआ. राव तुला राम मार्ग और रिंग रोड के जरिए 18.5 किलोमीटर की दूरी केवल 23.10 मिनट में तय की. दिल्ली यातायात पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस मार्ग पर ना केवल अधिक यातायात है बल्कि दिन भर इस पर वीवीआईपी का आना-जाना और आईजीआई हवाई अड्डा जाने वाले की भीड़ लगी रहती है. उन्होंने कहा,  काम की महत्वता को देखते हुए हमने तुरंत कार्रवाई की. आईजीआई हवाई अड्डे से लेकर एम्स तक रास्ते में काम पर लगे सभी कर्मियों को अलर्ट कर दिया.

You May Also Like

English News