अभी-अभी: घरों में लगी आग के सामने बीजेपी MLA ने ली सेल्फी, लोग बोले- पानी भी डाल देते तो दिया ये बुरा जवाब

जयपुर. बीजेपी विधायक बच्चू सिंह एक गांव के कच्चे घरों में लगी आग देखने पहुंचे और सेल्फी ली। इसको लेकर लोगों ने नाराजगी जताई। बच्चू, राजस्थान के बयाना से विधायक हैं। बच्चू ने FB पर पोस्ट भी किया। इस पर लोगों ने कहा, “आग पर पानी डाल देते तो बेहतर होता।” पूरी तरह खाक हो गया था सामान…अभी-अभी: घरों में लगी आग के सामने बीजेपी MLA ने ली सेल्फी, लोग बोले- पानी भी डाल देते तो दिया ये बुरा जवाब
यह भी पढ़े:> 
योगीराज के राज में भी चल रहा है सपा का गुंडाराज, गाय हांकी तो जो किया…जरुर पढ़े ये खबर
– मंगलवार को नगला मौरोली डांग इलाके में खेताें पर बने कुछ कच्चे घरों में आग लग गई। आग में सभी घर पूरी तरह जल गए और सामान भी खाक हो गया।
– इस पर बयाना विधायक बच्चू सिंह बंशीवाल मौके पर पहुंचे। तहसीलदार समेत अफसरों को भी मौके पर बुलाया और घटना व परिवारों की जानकारी ली। पीड़ित परिवारों को मदद का भरोसा दिलाया।
– इस बीच बच्चू धधकते घरों के सामने खड़े हुए और सेल्फी ली। यह देखकर लोग चौंक गए कि घरों में आग लग गई और विधायक सेल्फी ले रहे हैं। लेकिन कोई कुछ बोला नहीं।
 
फेसबुक पर पोस्ट करते ही मचा घमासान
– विधायक ने जैसे ही फेसबुक पर पोस्ट कर अपनी संवेदनशीलता जताने की कोशिश की, लोगों ने उनके इस पर सवाल करना शुरू कर दिया।
– नरेंद्र सिंह नाम के यूजर ने लिखा, “ये सेल्फी लेने का समय नहीं है।”
– उत्तम तामेश ने कमेंट किया, “वैरी बैड एमएलए साहब।”
– रिंकू सिरोही नाम के शख्स ने लिखा, “गरीबों की मदद कीजिए विधायक साहब, बहुत मेहरबानी होगी आपकी।”
– महेंद्र चौहान ने सलाह दी, “सेल्फी न लें, काम करें।”
– जय आनंद सिंह ने लिखा, “सेल्फी के साथ एक-दो बाल्टी पानी डाल देते तो आग जल्दी बुझ जाती।”
 
सोशल मीडिया पर सफाई देते रहे विधायक
– लोगों के कमेंट करने पर बच्चू सफाई देते रहे, “सेल्फी नहीं है, मौके पर पहुंचकर अधिकारियों को जल्द से जल्द आने के लिए फोटो खींचकर भेजा था। फोटो में मेरा होना इसीलिए जरूरी था, जिससे उनको लगे कि मैं मौके पर मौजूद हूं।”
– “अगर मैं अधिकारियो को फोन करके बोलता कि आग लग गई है तो शायद वे कोताही भी बरत सकते थे। मैंने तुरंत एक्शन लेने के लिए ये फोटो भेजा। मैं मौके पर हूं, आप भी तुरंत मौके पर पहुंचें।”
 
क्या बोले बच्चू?
– बच्चू ने भास्कर से बातचीत में कहा, “मैं गांव के पास से गुजर रहा था। घरों पर छप्परों में आग लगी थी। मैं साथियों के साथ रुका, तो पता चला कि वहां कोई अफसर नहीं पहुंचे।”
– “मैंने एसडीएम को फोन किया, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। फिर एडीएम को फोन किया और बताया कि आग लगी है, मैं मौके पर हूं, जिसकी लाइव फोटो मैं भेज रहा हूं। आप अपने अफसरों और पुलिस को ये फोटो भेजकर कहें कि वे तुरंत मौके पर पहुंचें और राहत का काम शुरू करें।”
– ठअब इसे भी लोग मजाक बनाएं तो कोई क्या कर सकता है। मेरी मंशा उन पीड़ितों तक जल्द से जल्द मदद पहुंचाने की थी, जो मैंने अपनी मौजूदगी का अहसास कराकर अफसरों के सामने प्रकट की। ताकि तेजी से एक्शन हो।

You May Also Like

English News