घर से निकले किसान की हत्या खेत में खून से लथपथ मिला शव

लखनऊ ,22 दिसम्बर मोहनलालगंज के सिसेण्डी गांव में रहने वाले एक किसान की हत्या कर दी गयी। गुरुवार की सुबह किसान का खून से लथपथ शव एक खेत में पड़ा मिला। इस मामले में मृतक के बेटे ने फिलहाल अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज करायी है।
इंस्पेक्टर मोहनलालगंज रामपाल यादव ने बताया कि सिसेण्डी गांव में 55 वर्षीय किसान हरीराम त्रिवेदी अपने परिवार के साथ रहता था। बताया जाता है कि बुधवार की शाम करीब 5 बजे वह घर से निकला था।
hatya-1
इसके बाद हरीराम लापता हो गया। देर रात तक जब वह घर नहीं पहुंचा तो परिवार वालों ने उसको तलाशान शुरू किया, पर उसका कोई पता नहीं चल सका। गुरुवार की सुबह जब गांव के लोग सोकर उठे और शौच के लिए निकले तो एक खेत में हरीराम का खून से लथपथ शव पड़ा देखा। लोगों ने फौरन इस बात की खबर हरीराम के परिवार के लोग व मोहनलालगंज पुलिस को दी। खबर पाकर मौके पर परिवार के लोग व मोहनलालगंज पुलिस भी पहुंच गयी।
छानबीन के दौरान पुलिस को हरीराम के सिर पर चोट के गहरे निशान मिले। खेत में भी ताजा खून बहा हुआ था और शरीर पर कई जगह चोट के निशान थे। पुलिस ने जब परिवार वालों से इस संबंध में बातचीत की तो उन लोगों ने किसी पर कोई शक नहीं जताया। छानबीन के पुलिस ने हरीराम के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस मामले में पुलिस ने मृतक के बेटे की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली है और छानबीन में जुटी है। किसान हरीराम के परिवार में पत्नी, तीन बेटे संतोष, लालकृष्ण व गौरव हैं।
जमीन बेचने का था हरीराम पर दबाव किसान हरीराम की हत्या के मामले में छानबीन कर रही मोहनलालगंज पुलिस को इस बात का पता चला कि किसान के नाम पर साढ़े चार बीद्या जमीन थी। गांव के ही कुछ दबंग किसान पर अपनी जमीन को बेचने का दबाव बना रहे थे। वहीं किसान किसी भी हाल में अपनी जमीन बेचने के लिए तैयार नहीं था। लोगों से पता चली इस बात के बाद मोहनलालगंज पुलिस इस लाइन पर भी काम कर रही है।
पुलिस उन लोगों का नाम पता लगाने में जुटी है जो लोग किसान से जमीन बेचने के लिए कह रहे थे। तड़के किसी वक्त की गयी किसान की हत्या किसान हरीराम का शव जिस खेत में पड़ा मिला वहां पर पुलिस को कई कदमों के निशान मिले हैं। परिस्थितजनक साक्ष्य इस बात की तरफ इशारा कर रहे हैं कि किसान ने आरोपियों से बचने के लिए काफी संघर्ष किया।
वहीं किसान के शरीर व कपड़े पर औस की एक बंदू नहीं मिली। इससे आशंका जतायी जा रही है कि शायद किसान हरीराम की हत्या सुबह किसी वक्त की गयी है। फिलहाल अभी इस बारे में पुलिस का कहना है कि छानबीन चल रही है और सभी आशंकाओं पर काम किया जा रहा है।

You May Also Like

English News