घर से निकले हिस्ट्रीशीटर का शव बाग में मिला

लखनऊ: निगोहां इलाके में रहने वाले एक हिस्ट्रीशीटर का शव एक बाग में पड़ा मिला। उसका शरीर काला पड़ चुका था। फिलहाल परिवार वालों ने किसी तरह का कोई आरोप किसी पर नहीं लगाया है। वहीं पुलिस का कहना है कि उसकी मौत बीमारी के चलते हुई है।
एसओ निगोहां ने बताया कि मदाखेड़ा गांव में 42 वर्षीय मजदूर मुकेश कुमार अपने परिवार के साथ रहता था। मुकेश निगोहां थाने का हिस्ट्रीशीटर भी था। उसकी पत्नी लक्ष्मी ने पुलिस को बताया कि शुक्रवार की रात करीब 7 बजे वह घर से दवा लेने की बात कहकर निकला था। इसके बाद वह वापस घर नहीं लौटा।

देर रात होने पर परिवार वालों ने उसको तलाशना शुरू किया पर उसका कोई सुराग नहीं लग सका। शनिवार की सुबह जब गांव के लोग उठे और गांव के बाहर शौच के लिए गये तो देखा कि एक बाग में मुकेश का शव पड़ा था। ग्रामीणों ने इस बात की सूचना उसके परिवार वालों को दी। सूचना पाकर मौके पर निगोहां पुलिस भी पहुंच गयी। लोगों ने बताया कि मुकेश का शव काला पड़ा चुका था। छानबीन के बाद पुलिस ने उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

फिलहाल मुकेश के परिवार वालों ने किसी तरह का कोई आरोप किसी पर नहीं लगाया है। वहीं निगोहां पुलिस का कहना है कि मुकेश की मौत बीमारी के चलते हुई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत का सही कारण पता चल जायेगा और उसी आधार पर आगे की कार्रवाई की जायेगी।

You May Also Like

English News