घाटकोपर हादसे में अब तक 17 की मौत, शिवसेना नेता को किया गिरफ्तार, CM ने मांगी 15 दिन में रिपोर्ट..

मुंबई के घाटकोपर इलाके में चार मंजिला बिल्डिंग गिरने से हुए हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है. हादसे में 6 लोग घायल भी हुए हैं. मंगलवार को ये चार मंजिला इमारत भरभराकर गिर गई थी. ये हादसा कैसे हुआ, इसकी जांच के आदेश दे दिए गए हैं. देर रात मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस भी घटनास्थल पर पहुंचे. उन्होंने कहा कि अपराध पंजीकृत हो गया है. पुलिस जांच कर रही है. मैंने बीएमसी आयुक्त को 15 दिनों के भीतर जांच करने और रिपोर्ट जमा करने का निर्देश दिया है. इस मामले में बिल्डिंग के मालिक शिवसेना नेता प्रताप शिताप को गिरफ्तार कर लिया गया है. शिताप के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.घाटकोपर बिल्डिंग हादसे में 17 की मौत, शिवसेना नेता को किया गया गिरफ्तार, CM ने मांगी 15 दिन में रिपोर्ट..लखनऊ में अमित शाह का बड़ा फैसला: कहा- यूपी को 5 साल में बीमारू राज्य से करेंगे बाहर

बताया जाता है कि बिल्डिंग काफी जर्जर हालत में थी और लगातार बारिश होने के चलते मंगलवार सुबह 11 बजे के आसपास भरभराकर गिर पड़ी. स्थानीय लोगों ने अपने स्तर पर बचाव कार्य शुरू किया. थोड़ी देर बाद बीएमसी की डिजास्टर मैनेजमेंट की टीम भी मौके पर पहुंच गई और लोगों को मलबे से निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया. ‘साई दर्शन’ नाम की ये बिल्डिंग 1980 में बनी थी. ग्राउंड फ्लोर के साथ बिल्डिंग में चार फ्लोर बने थे. हर फ्लोर पर 4 फ्लैट थे.

ये बिल्डिंग सुनील सिताप नाम के शिवसेना नेता की थी. जो ग्राउंड फ्लोर पर अस्पताल चला रहे थे. सुनील सिताप के खिलाफ FIR भी दर्ज कराई गई. धारा 304 (2) के तहत एफआईआर दर्ज हुई है. लोगों के मुताबिक बिल्डिंग में कुछ बदलाव किए जा रहे थे और एक पिलर भी हटाया गया था. ये काम पिछले दो महीनों से चल रहा था.

मंगलवार सुबह जब ये हादसा हुआ उससे पहले पूरी इमारत बुरी तरह हिलने लगी. ग्राउंड फ्लोर पर काम कर रहे मजदूरों ने जब ये देखा वो तो घबरा और वहां से भाग निकले. बिल्डिंग में मौजूद परिवारों ने भी जब ये महसूस किया तो बाहर निकलने की कोशिश करने लगे. इनमें कुछ बदनसीब बाहर नहीं आ पाए और मलबे में दब गए.

इसी साल बीएमसी चुनाव में सुनील सिताप की पत्नी ने चुनाव लड़ा था. वो शिवसेना के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरी थीं, मगर हार गई थीं.

You May Also Like

English News