चंडीगढ़ एयरपोर्ट से तेज हवाए चलने के कारण उड़ानें रद, धूल के गुबार से ढका सिटी ब्‍यूटीफुल

सिटी ब्‍यूटीफुल चंडीगढ़ भी धूल के गुबार से ढक गया है। पूरा आसमान धूल की चादर से ढका हुआ है। इस कारण चंडीगढ़ अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अड्डे से विमानों की उड़ाने प्रभावित हुर्अ हैं। कई फ्लाइट्स कर दी गई हैं। कई फ्लाइट्स में विलंब हो रहा है और यहां आने वाली कई फ्लाइट्स के रूट्स में बदलाव किया गया है।चंडीगढ़ श‍हर और अासपास के क्षेत्र में वायु प्रदूषण की स्थिति बेहद खराब स्थिति में पहुंच गई है। मौसम विभाग के अनुसार, एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 575 हो गया है जो सबसे खराब स्थिति मानी जाती है। यह 100 तक अच्छा माना जाता है । अभी तक के इतिहास में यह सबसे अधिक दर्ज किया गया है। धूल के कारण लोगों को सांस लेने में भी दिक्‍कत हो रही है।

जेट एयरवेज की दिल्ली से चंडीगढ़ की फ्लाइट और इंडिगो की चंडीगढ़ से दिल्ली की फ्लाइट रद्द कर दिया गया है। मौसम विभाग का कहना है कि वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते आने वाले 48 घंटों में मौसम में अचानक बदलाव होगा और धूल के बीच तेज हवाओं के साथ बारिश होगी।

विभाग के मुताबिक वीरवार को इस साल जून का सबसे गर्म दिन रहा और हवा में नमी की मात्रा 68 फीसदी रिकार्ड की गई। मौसम विभाग के चंडीगढ़ केंद्र के निदेशक सुरेंद्र पाल के मुताबिक आने वाले 48 घंटों में मौसम में बदलाव के आसार बन रहे हैं। वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते 15 जून की शाम से बादल छा सकते हैं। 16 जून को तेज हवाओं के साथ हल्की बौछारें पड़ने की संभावना है। वीरवार को अभी तक अधिकतम तापमान 42.3 डिग्री दर्ज किया गया है और न्यूनतम तापमान तापमान 28.7 डिग्री रहा।

चंडीगढ़ श‍हर और अासपास के क्षेत्र में वायु प्रदूषण की स्थिति बेहद खराब स्थिति में पहुंच गई है। मौसम विभाग के अनुसार, एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 575 हो गया है जो सबसे खराब स्थिति मानी जाती है। यह 100 तक अच्छा माना जाता है । अभी तक के इतिहास में यह सबसे अधिक दर्ज किया गया है। धूल के कारण लोगों को सांस लेने में भी दिक्‍कत हो रही है।

You May Also Like

English News