#बड़ी खबर: नए राष्ट्रपति ने की पहली बड़ी नियुक्ति, चाचा के बाद अब भतीजे को बनाया देश का अगला मुख्य न्यायाधीश

नई दिल्ली, केंद्र सरकार ने देश के अगले मुख्य न्यायाधीश के नाम पर मुहर लगा दी है. अब राष्ट्रपति  नियुक्ति की अधिसूचना जारी करेंगे. यह नए राष्ट्रपति के हाथों पहली बड़ी नियुक्ति होगी.#बड़ी खबर: नए राष्ट्रपति ने की पहली बड़ी नियुक्ति, चाचा के बाद अब भतीजे को बनाया देश का अगला मुख्य न्यायाधीश

मौजूदा मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जेएस खेहर के उत्तराधिकारी के प्रस्ताव पर केंद्र सरकार ने आज मुहर लगा दी है. सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस दीपक मिश्रा देश के अगले मुख्य न्यायाधीश होंगे. वो जस्टिस जगदीश सिंह खेहर की जगह लेंगे, जो 27 अगस्त को रिटायर हो रहे हैं.

ये भी पढ़े: अभी अभी: नए नोट छापने को लेकर राज्यसभा में हुआ बड़ा हंगामा…

जस्टिस दीपक मिश्रा 28 अगस्त को भारत के 45वें प्रधान न्यायाधीश का पदभार ग्रहण करेंगे. उनका कार्यकाल 2 अक्टूबर 2018 तक रहेगा. जस्टिस दीपक मिश्रा के चाचा जस्टिस रंगनाथ मिश्र भी सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रह चुके हैं.

जस्टिस मिश्रा का जन्म 3 अक्टूबर 1953 को हुआ था. आप ओडिशा के रहने वाले हैं. जस्टिस दीपक मिश्रा ने 1977 में ओडिशा हाईकोर्ट से बतौर वकील करियर की शुरुआत की थी. इसके बाद 1996 में वह ओडिशा हाईकोर्ट के जज बने. वर्ष 2009 में जस्टिस दीपक मिश्रा ने पटना हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस का पदभार संभाला.

ये भी पढ़े: अभी अभी: इस बॉलीवुड एक्ट्रेस पर लगा बड़ा आरोप, जाना ही पड़ेगा जेल, खबर सुन बॉलीवुड में छाया सन्नाटा

30 जुलाई को याकूब मेमन को फांसी दिए जाने के बाद से जस्टिस दीपक मिश्रा और इस फैसले में साथ रहे उनके दो साथियों की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी.  जस्टिस मिश्रा समेत बाकी तीन जजों ने याकूब मेमन की फांसी रोकने की अपील याचिका को ठुकराते हुए आधी रात को चली सुनवाई में उनकी फांसी की सजा को बरकरार रखा था.

You May Also Like

English News