चावल का पानी दिला सकता है डायरिया की बीमारी से छुटकारा

गर्मियों के मौसम में सेहत से जुड़ी कई समस्याएं सामने आने लगती हैं. जिनमें से एक बीमारी है डायरिया. डायरिया यानी दस्त लगना. डायरिया की बीमारी बच्चों से लेकर बड़ों तक हो सकती है. डायरिया की बीमारी में शरीर में पानी और नमक की कमी हो जाती है. जिसके कारण पेट के निचले हिस्से में दर्द होना, पेट मरोड़ना, उल्टी आना, बुखार और कमजोरी की समस्या होने लगती है. आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिनके इस्तेमाल से आप डायरिया की बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं.गर्मियों के मौसम में सेहत से जुड़ी कई समस्याएं सामने आने लगती हैं. जिनमें से एक बीमारी है डायरिया. डायरिया यानी दस्त लगना. डायरिया की बीमारी बच्चों से लेकर बड़ों तक हो सकती है. डायरिया की बीमारी में शरीर में पानी और नमक की कमी हो जाती है. जिसके कारण पेट के निचले हिस्से में दर्द होना, पेट मरोड़ना, उल्टी आना, बुखार और कमजोरी की समस्या होने लगती है. आज हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिनके इस्तेमाल से आप डायरिया की बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं.   1- डायरिया होने पर 2 घंटे के अंतर पर नमक और पानी का घोल बनाकर पिएं. दिन में 6 से 7 बार इस घोल का सेवन करने से डायरिया की समस्या दूर हो जाती है.   2- अदरक के रस में थोड़ा सा नींबू का रस और काली मिर्च पाउडर मिलाकर पीने से डायरिया के साथ-साथ पेट दर्द से भी आराम मिलता है. इसके अलावा दिन में तीन चार बार अदरक की चाय का सेवन करने से भी डायरिया की बीमारी से छुटकारा मिलता है.   3- डायरिया की समस्या होने पर दिन में कम से कम तीन चार बार चावल के पानी का सेवन करें. इससे  डायरिया की समस्या से आराम मिल जाता है. 

1- डायरिया होने पर 2 घंटे के अंतर पर नमक और पानी का घोल बनाकर पिएं. दिन में 6 से 7 बार इस घोल का सेवन करने से डायरिया की समस्या दूर हो जाती है. 

2- अदरक के रस में थोड़ा सा नींबू का रस और काली मिर्च पाउडर मिलाकर पीने से डायरिया के साथ-साथ पेट दर्द से भी आराम मिलता है. इसके अलावा दिन में तीन चार बार अदरक की चाय का सेवन करने से भी डायरिया की बीमारी से छुटकारा मिलता है. 

3- डायरिया की समस्या होने पर दिन में कम से कम तीन चार बार चावल के पानी का सेवन करें. इससे  डायरिया की समस्या से आराम मिल जाता है.

You May Also Like

English News